• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Dhanbad news:‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह की निधन पर आर्चरी एसोसिएशन धनबाद ने उनके निधन पर गांधी सेवा सदन के प्रांगण में श्रद्धांजलि दी….

1 min read

Dhanbad news:‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह की निधन पर आर्चरी एसोसिएशन धनबाद ने उनके निधन पर गांधी सेवा सदन के प्रांगण में श्रद्धांजलि दी….

NEWSTODAYJ_Dhanbad news: भारत के महान फर्राटा धावक ‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह की 91 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उनके इस आकस्मिक निधन से खेल जगत में शोक की लहर व्याप्त है। आर्चरी एसोसिएशन धनबाद ने उनके निधन पर गांधी सेवा सदन के प्रांगण में श्रद्धांजलि कार्यक्रम कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया। मौके पर समाजसेवी विजय झा समेत विभिन्न खेल संघों के पदाधिकारीगण उपस्थित होकर स्व. मिल्खा सिंह की तस्वीर पर पुष्पांजलि दी।

यह भी पढ़ें…Dhanbad news : रणधीर वर्मा चौक पर एक परिवार के 3 सदस्य भूमि अधिग्रहण और मुआवजा को लेकर किया प्रदर्शन

विजय झा ने कहा कि मिल्खा सिंह के निधन से देशभर में शोक की लहर है। हमने एक महान खिलाड़ी को खो दिया है। भारत ने ऐसा महान खिलाड़ी खो दिया जिनके जीवन से उदीयमान खिलाड़ियों को प्रेरणा मिलती रहेगी.

उनका असंख्य भारतीयों के ह्रदय में विशेष स्थान था. अपने प्रेरक व्यक्तित्व से वे लाखों के चहेते थे. मैं उनके निधन से आहत हूं.’जुबैर आलम ने कहा कि भारत के महान धावक मिल्खा सिंह विश्व एथलेटिक्स पर एक अमिट छाप छोड़ी है. राष्ट्र उन्हें हमेशा भारतीय खेलों के सबसे चमकीले सितारों में से एक के रूप में याद रखेगा. उनके परिवार और अनगिनत समर्थकों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है. चार बार के एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता मिल्खा ने 1958 राष्ट्रमंडल खेलों में भी पीला तमगा हासिल किया था. उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हालांकि 1960 के रोम ओलंपिक में था जिसमें वह 400 मीटर फाइनल में चौथे स्थान पर रहे थे. उन्होंने 1956 और 1964 ओलंपिक में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया. उन्हें 1959 में पद्मश्री से नवाजा गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.