• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Dhanbad news:कोयला कर्मियो को मिलेगा 72000 हजार बोनस ,बम बम हुआ बाज़ार, दुर्गापूजा में इस बार जमकर होगी ख़रीदारी।

1 min read

 

NEWSTODAYJ_धनबाद (Dhanbad) कोयलाकर्मियों को इस साल करीब 72 हजार रुपये बोनस मिलेगा. सोमवार को कोल् इंडिया मुख्यालय में हुई बैठक में इस बात पर मुहर लगी. जानकर बताते है कि कोल् इंडिया के इतिहास में यह पहला मौका है जब महालया के पहले बोनस की राशि तय हुई है. बताया जाता है कि जेबीसीसीआई में शामिल चारों यूनियन के नेता आपस में बैठकर पहले डिमांड की राशि तय की और वही मांग प्रभंधन के सामने रखा.

यह भी पढ़े….Dhanbad news:वासेपुर के लोग वोट नही दिए इसलिए नही हुआ विकास:विधायक राज सिन्हा…

राशि को लेकर बहुत देर तक खींचतान चलती रही. यूनियन अपनी मांगो पर अड़ा रहा जबकि प्रबंधन आर्थिक हालातो की दुहाई देता रहा. अंत में तय हुआ प्रत्येक कोयलाकर्मी को 72000हजार बोनोस दिया जाएगा. यहाँ बता दे कि साल 2018 में 60 ,500 बोनस मिला था. 2019 में 64 ,700 और 2020 में 68 ,500 बोनस के राशि तय हुई थी.हालांकि मजदूर संघो की कामगारों पर कमजोर पड़ती पकड़ को देखते हुए मजदूर संगठनों ने इस बार कोशिस की कि ज्यादा से ज्यादा बोनस दिलाया जाए. इसके लिए नेताओ की कई बैठके भी हुई. वर्ष 2019 -20 में कोल् इंडिया को 16700 करोड़ का मुनाफा हुआ था ,जो इस वर्ष घाट कर 12702 करोड़ रह गया है. इसी तर्क पर नेताओ की नहीं चली और फैसला हुआ. जबकि नेताओ का तर्क है कि 12565 कर्मियों की संख्या भी घटी है। गत वर्ष कंपनी में बोनस के मद में 1721 करोड़ का भुगतान किया गया था।

 

कोरोना महामारी में भी कोयलाकर्मी देश के लिए जान की परवाह किये बिना कोल उत्पादन करते रहें।इस बार कम से कम उसमें 3500 रुपया की बढ़ोतरी हुई है। अंतिम रूप से हस्ताक्षर के बाद करीब 72 हज़ार बोनस की राशि घोषित हो जाएगी। वैसे कोयलांचल में बीसीसीएल के बोनस का केवल कर्मी और उनके परिवार जन ही इंतजार नहीं करते बल्कि बाजार को भी बोनस का इंतजार रहता है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें