DEOGHAR : आज तीसरी सोमवारी पुरोहितों ने बाबा मंदिर में पूजा अर्चना की जाने खास बात…पढ़े पूरी खबर…

0
[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने
DEOGHAR : आज तीसरी सोमवारी पुरोहितों ने बाबा मंदिर में पूजा अर्चना की जाने खास बात…पढ़े पूरी खबर…
  • भक्त अपने पुरोहित को एक राशि ऑनलाइन भेज देते हैं जिसके बाद पुरोहित अपने भक्तों के नाम से यहां पूजा करा देते।
  • डीसी कमलेश्वर प्रसाद सिंह पहली बार तीसरी सोमवारी को बाबा मंदिर अहले सुबह ही पहुंचे और विधि व्यवस्था का जायजा लिया।

NEWSTODAYJ : देवघर के बाबा मंदिर में तीसरी सोमवारी को मंदिर का पट 4:30 पर खोला गया जिसके बाद सरकारी पूजा संपन्न हुई।और उसके बाद मंदिर के पुरोहितों के लिए 7:00 बजे तक के लिए पूजा की अनुमति दी गई।सामाजिक दूरी का पालन करते हुए पुरोहितों ने बाबा मंदिर में पूजा अर्चना की खास बात यह है।

यह भी पढ़े…CORONAVIRUS UPDATED : भारत में 24 घंटे में 40 हजार से अधिक कोरोना मरीज की पुष्टि, 681 की मौत…

कि इस बार पुरोहित अपने भक्तों को ऑनलाइन संकल्प करा कर उन्हें पूजा करा रहे हैं।भक्त अपने पुरोहित को एक राशि ऑनलाइन भेज देते हैं जिसके बाद पुरोहित अपने भक्तों के नाम से यहां पूजा करा देते हैं आज सोमी अमावस्या है और तीसरी सोमवारी का संजोग भी है कहा जाता है कि आज के दिन अमर सुहाग का वरदान मिलता है लिहाजा महिलाओं के लिए यह सोमवारी काफी फलदाई होता है आज तीसरी सोमवारी है।

यह भी पढ़े…A SCAM : 29 स्‍कूलों की माध्‍यह्न भोजन योजना के बैंक खातों में पाई गई गड़बड़ी, जांच के निर्देश…

कथाओ के मुताबिक सावन के महीने में हर सोमवारी को समुद्र मंथन में कुछ बहुमूल्य रत्न और चीजें मिली थी कहा जाता है तीसरी सोमवारी को कोस्तुव मणि निकली थी लक्ष्मी और कौस्तुव मणि भगवान बिष्णु के के पास रहता है कहा जाता है की ये भक्तों को ऐश्वर्या धन और शुख शांति प्रदान करता है अतः आज का दिन शिव की पूजा अर्चना करने से भक्तो के जीवन से दुःख दूर हो जाते है आज शिव को इसलिए गंगा जल चढाने से मनुष्य का जीवन दुःख बिहीन हो जाता है। दूसरी ओर देवघर के डीसी कमलेश्वर प्रसाद सिंह पहली बार तीसरी सोमवारी को बाबा मंदिर अहले सुबह ही पहुंचे।

यह भी पढ़े…CRIME : SSP के आदेश पर आठ साइबर अपराधियों को छापेमारी कर किया गया गिरफ्तार अपराध के संबंध में कई सामग्री भी बरामद…

और विधि व्यवस्था का जायजा लिया इसके अलावा पूरा प्रशासन सामाजिक दूरी का पालन करवाने और पुरोहितों को दर्शन कराने के लिए अहले सुबह से डर्टी रहे बाहरी यात्रियों का प्रवेश निषेध है जिसके वजह से बाहरी परिसर और सीमाओं को मैं भी भारी मात्रा में पुलिस बलों और धंधा अधिकारी की नियुक्ति कर दी गई है देवघर बाबा मंदिर में गर्भ गृह में महिलाओं और बच्चों के एंट्री पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here