Crime News:प्रसिद्ध क्लीनिक संचालक उमाशंकर के पुत्र पर हमला, दो युवकों ने रोड से किया गाड़ी पर जानलेवा हमला

0

हमले को जेएमएम नेता कारु यादव तथा डॉक्टर उमाशंकर सिंह के बीच जुलाई माह में हुए विवाद से जोड़ कर देखा जा रहा

 

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

NEWSTODAYJ_कतरास निचितपुर क्लिनिक संचालक प्रसिद्ध डाक्टर उमाशंकर सिंह के पुत्र चंदन उर्फ निशु पर जानलेवा हमला रविवार देर रात को किया गया है. इस हमले में चंदन कुमार तथा मासूम 5 वर्षीय बच्ची आंशिक रूप से घायल हुए है. मामले की जानकारी कतरास थाना को दी गई।

सूचना पाकर कतरास थाना निचितपुर पहुंच कर मामले की जानकारी ली. वहीं इस हमले को जेएमएम नेता कारु यादव तथा डॉक्टर उमाशंकर सिंह के बीच जुलाई माह में हुए विवाद से जोड़ कर देखा जा रहा है. हमले में घायल चन्दन कुमार भी बता रहे कि हमलावर बार बार कारु यादव का नाम ले रहे थे. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

यह भी पढ़े……Dhanbad news:लड़की से छेड़खानी मामले में आरोपी को पकड़ने गए परिजन ग्रामीणों पर पत्थरबाजी, मुखिया सरपंच हुए घायल,हीरासत में लिए गए चार आरोपी जांच में जुटी पुलिस

रविवार रात्रि लगभग 10:15 बजे अपने घर चन्दन उर्फ निशु अपने कार से निचितपुर लौट रहा था. चन्दन कुमार अपने कार को जैसे से अपने निचितपुर अपने घर गली की ओर मोड़ा की पहले से घात लगाए बाइक सवार 2 युवक रॉड से कार के आगे के शीशे पर हमला कर दिया. जिससे कार चला रहे चन्दन तथा उसकी 5 वर्षीय बेटी घायल हो गई।

चन्दन कुमार सूझबूझ दिखाते हुए अपनी कार को लेकर कतरास राजगंज मार्ग से तेजी से भाग निकला. राजगंज थाना में जाकर शरण लिया. थाने से अपने परिजन तथा कतरास थाना को मामले की जानकारी दी. इस दौरान हमला करने वाले बाइक सवार अपने अन्य 3 साथियों के साथ कार का पीछा भी किया लेकिन चन्दन तेजी से कार को भगाता रहा. राजगंज थाना से सुरक्षित डाक्टर पुत्र को लाया गया।

डाक्टर उमाशंकर सिंह ने कहा कि इस तरह के हमले के बाद उन्हीं अपनी बंद करनी पड़ेगी. उन्होंने कहा कि जिस कारु यादव का नाम लिया जा रहा उससे उनकी कोई अनबन नहीं है. पिछले दिनों वह अपने मरीज को लेकर आया था. जिसे वह दूसरे जगह इलाज कराने ले गया था. उस दौरान मारपीट की घटना हुई थी, लेकिन वह इसे भूल चुके है. अब इस तरह से उनके पुत्र पर हमला सही नही है. इन्होंने प्रशासन से सुरक्षा और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here