Crime news:अंधविश्वास और तंत्र-मंत्र के चक्कर में तीन लोगों की टांगी से काटकर हत्या

0

NEWSTODAYJ_गुमला: जिले में अंधविश्वास और तंत्र-मंत्र आए दिन लोगों की मौत का कारण बन रहा है. ताजा घटना में डायन बिसाही का आरोप लगाकर एक ही परिवार के तीन लोगों की टांगी से काटकर हत्या कर दी गई है. घटना शनिवार (25 सितंबर) देर रात की है. हत्या के बाद दो आरोपियों ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है. हत्या में इस्तेमाल किए गए हथियार को भी बरामद कर लिया गया है.

यह भी पढ़े…Crime news:330 किलोग्राम गांजा के साथ एक तस्कर गिरफ्तार, एनसीबी की टीम ने एक तस्कर को रंगे हाथ किया गिरफ्तार

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

बताया जाता है कि सदर थाना क्षेत्र के लूटो गांव में 55 साल के बंधन उरांव और उसकी पत्नी सोमारी देवी और 40 साल की बहू की हत्या उसके रिश्तेदारों ने ही की है. खबर के मुताबिक बंधन उरांव की पत्नी सोमारी देवी ओझा गुणी और झाड़-फूंक का काम करती थी. इसी दरम्यान उनका विवाद उनके दो भतीजे बिपता उरांव और जुलू उरांव के साथ हो गया. जिसके बाद इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया.

टांगी से काटकर हत्या

सूचना के मुताबिक वारदात से पहले बंधन उरांव शनिवार की शाम खेत से लौटकर घर में खाना खा रहे थे. तभी अचानक दोनों भतीजे बिपता उरांव और जुलू उरांव उनके घर पहुंचे और टांगी से बंधन उरांव और सोमारी उरांव पर हमला कर दिया. हमले के बाद मची चीख पुकार सुनकर जब उनकी बहू बासमनी देवी घर से बाहर निकली तो उस पर भी टांगी से वार किया गया. इस हमले में सास बहू और सुसर की मौत हो गई. घटना के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए.हत्याकांड के बाद घर में बिखरा पड़ा खानाहत्याकांड के बाद घर में बिखरा पड़ा खानाआरोपियों ने किया सरेंडरसदर एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल के मुताबिक हत्या के पीछे मृतक के दोनों भतीजों का ही हाथ है. जिन्होंने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है. पुलिस दोनों आरोपियों से पूछताछ कर घटना के पीछे की पूरी सच्चाई जानने की कोशिश कर रही है. बता दें कि कुछ दिन पहले ही डायन बिसाही के आरोप में एक बुजुर्ग दंपती की हत्या की गई थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here