Coronavirus : होटवार जेल में एक साथ 85 कैदी कोरोना संक्रमित मिलने से कैदियों में हड़कंप…

1 min read

Coronavirus : होटवार जेल में एक साथ 85 कैदी कोरोना संक्रमित मिलने से कैदियों में हड़कंप…

  • जेल आइजी बीरेंद्र भूषण ने जेल अधीक्षक को पत्र लिखकर जिला प्रशासन से सहयोग स्थापित कर कैदियों की सुरक्षा का विशेष इंतजाम करने का निर्देश दिया था।
  • इस महामारी में एक पुलिस कर्मी व एक कैदी की मौत चुका है, एक कैदी रिम्स में जिंदगी-मौत से जूझ रहा।

NEWSTODAYJ : रांची के बिरसा मुंडा होटवार जेल में कैदियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने पर जेल आइजी बीरेंद्र भूषण ने जेल अधीक्षक को पत्र लिखकर जिला प्रशासन से सहयोग स्थापित कर कैदियों की सुरक्षा का विशेष इंतजाम करने का निर्देश दिया था। यह भी कहा था कि कैदियों के लिए जेल से बाहर अलग कोविड सेंटर बनाया जाए। अलग कोविड सेंटर बनाने के लिए जिला प्रशासन के साथ-साथ राज्य के आला अधिकारियों को भी लिखा गया था।

यह भी पढ़े..Accident : सेप्टिक टैंक साफ करने के दौरान हादसा, ठेकेदार समेत कर्मियों , 6 लोगों की मौत…

अब तक इस पर अमल नहीं हो सका है। मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। एक बार फिर 85 नए मरीज मिलने के बाद स्थिति नियंत्रण से बाहर होता दिख रहा है। इस महामारी में एक पुलिस कर्मी व एक कैदी की मौत चुका है, एक कैदी रिम्स में जिंदगी-मौत से जूझ रहा।

यह भी पढ़े…Crime : सनकी पति ने चाकू से पत्नी और नाती को लहूलुहान कर हत्या कर डाला , खुद भी जहर खाकर आत्महत्या कर लिया…

बिरसा मुंडा होटवार जेल में कोरोना विस्फोट की स्थिति उत्पन्न हो गई है। शनिवार को 200 कैदी व जेल कर्मी की जांच रिपोर्ट आई। इसमें 85 कैदी व कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इससे पूर्व चार अगस्त को दो पूर्व मंत्री सहित 32 कैदी व 22 जेल कर्मी एवं पुलिस कर्मी पॉजिटिव पाए गए थे। इस तरह कैदी व कर्मियों को मिलाकर संक्रमितों की संख्या 139 पहुंच गई है। इसमें एक कैदी व एक सुरक्षाकर्मी संक्रमण से मौत हो गई। हद ये है कि संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ने के बावजूद संक्रमित कैदियों व जेलकर्मियों के लिए अलग क्वॉरंटाइन सेंटर की व्यवस्था नहीं की जा सकी है।

यह भी पढ़े…Incident at Covid Center : कोविड सेंटर में आग लगने से सात लोगों की मौत, पीएम मोदी और अमित शाह ने जताया दुख (देखें विडियो)…

कैदियों को जहां अलग-अलग सिंगल सेल में रखा गया है, वहीं कर्मियों का जेल बैरक में ही इलाज चल रहा है।संक्रमित 22 कर्मियों व सुरक्षाकर्मियों का इलाज जेल बैरक में ही चल रहा है। शुक्रवार की रात 12 बजे के आसपास अचानक सुरक्षाकर्मी विशेश्वर भगत की तबीयत बिगड़ने लगी। सांस लेने में दिक्कत शुरू हो गई। इसके बाद आनन फानन में उन्हें रिम्स ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। जानकारी के अनुसार मृतक भूतपूर्व सैनिक हैं। चार अगस्त को वे कारोना पॉजिटिव पाज गए थे।

यह भी पढ़े…LIVE PM Kisan Samman Nidhi : पीएम मोदी अब कुछ ही देर में जारी करेंगे 17,000 करोड़ रुपये की योजना की छठी किस्त…

चार दिनों पहले भी एक कैदी की कोरोना से इलाज के दौरान रिम्स में मौत हुई थी।मृतक कैदी गुमला के दिव्यांशु शर्मा हैं। बीते मई महीने में उसे गुमला से बिरसा मुंडा होटवार जेल शिफ्ट किया गया। दो अगस्त को सांस लेने में दिक्कत होने की शिकायत पर रिम्स में भर्ती कराया गया था।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : कोरोना के डर से युवक ने कुएं में कूदकर दी जान, युवक सर्दी-बुखार से परेशान था…

जबकि चार अगस्त को जब जांच रिपोर्ट आयी तो कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। जेल अधीक्षक हामिद अख्तर के अनुसार जेल प्रशासन अपनी क्षमता के अनुसार संक्रमित कैदियों व जेल कर्मियों की इलज की व्यवस्था कर रही है। जिसकी तबीयत ज्यादा खराब हो रही है उसे रिम्स में भर्ती कराया जा रहा है। हालांकि, संक्रमितों के लिए अलग क्‍वारंटाइन सेंटर के सवाल पर चुप्पी साध लेते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.