corona update:कोरोना संक्रमित मरीजों का उपचार एवं कांटेक्ट ट्रेसिंग अत्यंत महत्वपूर्ण- उपायुक्त…

corona update:कोरोना संक्रमित मरीजों का उपचार एवं कांटेक्ट ट्रेसिंग अत्यंत महत्वपूर्ण- उपायुक्त…

उपायुक्त ने की कांटेक्ट ट्रेसिंग, काँटेन्मेंट जोन एवं मरीजों के शिफ्टिंग की ऑनलाइन समीक्षा

प्रशासनिक निर्देशो का उल्लंघन करने वालो पर होगी एफआईआर- वरीय पुलिस अधीक्षक

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

हॉटस्पॉट की पहचान कर चलाया जाएगा विशेष टीकाकरण एवं जांच अभियान

सभी थाना क्षेत्र में थाना प्रभारी चलाएंगे सघन मास्क जांच अभियान

NEWSTODAYJ: धनबाद:उपायुक्त सह अध्यक्ष, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार धनबाद उमा शंकर सिंह की अध्यक्षता में आज संध्या कांटेक्ट ट्रेसिंग, काँटेन्मेंट जोन एवं मरीजो के शिफ्टिंग, की समीक्षा के संबंध में ऑनलाइन बैठक सम्पन्न हुई।बैठक में उपायुक्त ने कहा कि हम सभी को मिलकर कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए कार्य करना होगा। जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, धनबाद द्वारा सभी क्षेत्रों में इंसिडेंट कमांडर की प्रतिनियुक्ति की गई है। सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी को उन्हें लॉजिस्टिक सहयोग प्रदान करेंगे तथा विधि व्यवस्था के संधारण में संबंधित थाना प्रभारी उनका सहयोग करना सुनिश्चित करेंगे।

सभी प्रखंडों में प्रतिनियुक्त हैं एम्बुलेन्स- उपायुक्त

उन्होंने कहा की सभी प्रखंडों में पर्याप्त मात्रा में एंबुलेंस की प्रतिनियुक्ति की गई है। संक्रमित मरीज मिलने पर संबंधित क्षेत्र के इंसिडेंट कमांडर अविलंब आईडीएसपी सेल के साथ संपर्क कर गंभीर मरीजों को एसएनएमएमसीएच कैथ लैब या सेंट्रल हॉस्पिटल में भर्ती कराएंगे तथा बिना लक्षण वाले मरीजों को टाटा जामाडोबा अथवा क्षेत्रीय रेलवे प्रशिक्षण संस्थान भूली स्थित कोविड केयर केंद्र में भर्ती कराना सुनिश्चित करेंगे। मरीज को लक्षण है अथवा नहीं, इसके पहचान करने की जिम्मेदारी संबंधित क्षेत्र के एमओआईसी को दी गई है।

उपायुक्त ने कहा कि संक्रमित मरीज मिलने पर अविलंब संबंधित क्षेत्र में कंटेनमेंट जोन का निर्माण कर कांटेक्ट ट्रेसिंग तथा कोविड जांच की प्रक्रिया प्रारंभ करना अत्यंत महत्वपूर्ण है

इस हेतु इंसिडेंट कमांडर, एमओआईसी तथा संबंधित थाना प्रभारी आपस में समन्वय बनाकर आईडीएसपी सेल और क्षेत्रीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के साथ मिलकर कंटेनमेंट जोन में कांटेक्ट ट्रेसिंग तथा लोगो की कोविड जांच करना सुनिश्चित करेंगे।

हॉटस्पॉट की पहचान कर चलाया जाएगा विशेष टीकाकरण एवं जांच अभियान

उन्होंने बताया कि प्रतिदिन के संक्रमण की स्थिति को देखते हुए जिले में हॉटस्पॉट वाले क्षेत्रों की पहचान की जाएगी। जहां संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। साथ ही विशेष टीकाकरण एवं कोविड जांच अभियान चलाया जाएगा।

उपायुक्त ने बताया कि कोविड-19 संक्रमित मरीजों के लिए विशेष परिस्थिति में शर्तों के साथ होम आइसोलेशन का प्रावधान है। जिसकी विस्तृत गाइडलाइन उपलब्ध है।

उन्होंने इंसिडेंट कमांडर तथा एमओआईसी को होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों का औचक निरीक्षण करने तथा गाइडलाइन का अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने बताया कि नई गाइडलाइन के अनुसार संक्रमित मरीज की मृत्यु होने पर उनके शव को शर्तो के साथ उनके परिजनों को सुपुर्द किया जा सकता है। जिला प्रशासन द्वारा बलियापुर के आमझर में शवों के अंतिम संस्कार की पूर्ण व्यवस्था उपलब्ध है।

बैठक में उपायुक्त ने कहा कि जिला स्तरीय कोविड कंट्रोल रूम पूर्ण रूप से संचालित है। कंटेनमेंट जोन, कांटेक्ट ट्रेसिंग, कोविड अस्पताल तथा मरीजों की शिफ्टिंग से संबंधित किसी भी प्रकार की सूचना एवं सहायता हेतु नियंत्रण कक्ष में संपर्क किया जा सकता है।

अपने-अपने थाना क्षेत्र में थाना प्रभारी चलाएं सघन मास्क जांच अभियान- वरीय पुलिस अधीक्षक

बैठक के दौरान वरीय पुलिस अधीक्षक असीम विक्रांत मिंज ने सभी थाना प्रभारियों को स्पष्ट निर्देश दिया कि किसी भी परिस्थिति में प्रशासनिक निर्देशों का उल्लंघन करने वालों पर अभिलंब एफआईआर कर कार्यवाही सुनिश्चित करें।

उन्होंने सभी थाना प्रभारियों को इंसिडेंट कमांडर एवं एमओआईसी के साथ मिलकर इस आपदा की घड़ी में कार्य करने का निर्देश दिया।

वरीय पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कोरोनावायरस से बचाव एवं रोकथाम हेतु मास्क का प्रयोग सुनिश्चित करवाना अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिया कि अपने-अपने थाना क्षेत्र में सघन मास की जांच अभियान चलाएं तथा दोषियों से जुर्माना वसूल करें।

ऑनलाइन बैठक में उपायुक्त उमाशंकर सिंह, वरीय पुलिस अधीक्षक असीम विक्रांत मिंज, सभी वरीय इंसिडेंट कमांडर, सिविल सर्जन डॉ० गोपाल दास, डीआरसीएचओ डॉ० विकास राणा, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी इंसिडेंट कमांडर, सभी थाना प्रभारी, सभी एमओआईसी, सभी अंचलाधिकारी, डीएमएफटी पीएमयू के नितिन कुमार पाठक एवं शुभम सिंघल सहित अन्य संबंधित लोग उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here