Chief Minister taking action : रिम्‍स कोविड वार्ड की अव्‍यवस्‍था पर मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान, कहा समुचित इलाज की करें व्यवस्था…

0
न्यूज़ सुने

Chief Minister taking action : रिम्‍स कोविड वार्ड की अव्‍यवस्‍था पर मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान, कहा समुचित इलाज की करें व्यवस्था…

  • इस पर संज्ञान लेते हुए उन्‍होंने मामले में रिम्‍स प्रबंधन को सख्‍त आदेश दिए हैं। मुख्‍यमंत्री ने कहा है।
  • साथ ही सीएम ने स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन्‍ना गुप्‍ता को भी मामले में संज्ञान लेने का अनुरोध किया है।

NEWSTODAYJ रांची : झारखंड राज्‍य के सबसे बड़े सरकारी अस्‍पताल रिम्‍स में एक बार फिर अव्‍यवस्‍था का आलम दिखा है। इस मामले को मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने गंभीरता से लिया है। इस पर संज्ञान लेते हुए उन्‍होंने मामले में रिम्‍स प्रबंधन को सख्‍त आदेश दिए हैं। मुख्‍यमंत्री ने कहा है कि इस तरह के मामलों की पुनरावृत्ति भविष्य में न हो, रिम्स प्रबंधन यह सुनिश्चित करे।

यह भी पढ़े…Janmashtami 2020 : झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने झारखंडवासियों को दी जन्माष्टमी की बधाई…

साथ ही सीएम ने स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन्‍ना गुप्‍ता को भी मामले में संज्ञान लेने का अनुरोध किया है। रिम्‍स के कोविड वार्ड में बेड से गिरे एक मरीज को सहायता नहीं मिल पाने के कारण वह घंटों नीचे पड़ा रहा। मीडिया के माध्‍यम से मुख्‍यमंत्री को जानकारी मिली थी कि रिम्स स्थित कोविड वार्ड में एक कोविड एवं कैंसर पीड़ित मरीज बेड से नीचे गिर गया। लेकिन घंटों गुहार लगाने के बाद भी उसकी मदद नहीं की गई।

यह भी पढ़े…Online knowledge2020 : जन्माष्टमी का एक ऑनलाइन उत्सव आयोजित किया गया…

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गोमिया प्रखंड के महुआटाँड थाना क्षेत्र के चगड़ी गांव निवासी दिलीप करमाली के संपूर्ण स्वास्थ्य लाभ होने तक समुचित इलाज की व्यवस्था करने का निर्देश रिम्स प्रबंधन को दिया है। मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री को भी मामले पर संज्ञान लेने का अनुरोध किया है।

यह भी पढ़े…Attempt to commit suicide : दामोदर नदी में युवती ने लगाई छलांग , पीएमसीएच रेफर…

मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि गोमिया प्रखंड के महुआटाँड थाना क्षेत्र स्थित चगड़ी गांव निवासी दिलीप करमाली के रीढ़ की हड्डी में ट्यूमर है। इससे उनका दोनों पैर शिथिल हो गया है। दिलीप को रिम्स के चिकित्सकों ने भर्ती करने से इंकार कर दिया। घर वाले निजी अस्पताल में इलाज कराने में असमर्थ हैं। मामले की जानकारी के बाद मुख्यमंत्री ने उपरोक्त निर्देश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here