• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Business:व्हाट्सएप को केंद्र ने कहा गंभीर मामलों की देनी होगी जानकारी…..

1 min read

Business:व्हाट्सएप को केंद्र ने कहा गंभीर मामलों की देनी होगी जानकारी…..

 

NEWSTODAYJ_Business:फेसबुक (Facebook) के मालिकाना हक वाला मैसेजिंग ऐप व्‍हाट्सऐप (WhatsApp) भारत सरकार के नए आईटी नियमों (IT Rules) के खिलाफ अदालत पहुंच गया है. नए नियमों में व्‍हाट्सऐप को अपने मैसेजिंग ऐप (messaging app) पर भेजे गए मैसेज के ऑरिजिन का पता रखना होगा. इस नियम के खिलाफ कंपनी ने 25 मई को दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) में यह कहते हुए अर्जी दी है कि इससे यूजर्स की प्राइवेसी (Users’ Privacy) का उल्‍लंघन होगा. इस पर केंद्र सरकार ने कहा कि हम निजता के अधिकार का सम्‍मान करते हैं, लेकिन गंभीर मामलों में व्‍हाट्सऐप को जानकारी देनी होगी.

यह भी पढ़ें.…Business: मारुति ने दिया बड़ा ऑफर,डिजायर कार पर मिल रही भारी छूट…..

केंद्र ने कहा, निजता का उल्‍लंघन करने का कोई इरादा नहीं

 

केंद्र सरकार ने तल्‍ख टिप्‍पणी करते हुए ट्वीट किया कि एक तरफ व्‍हाट्सऐप अपने यूजर्स के लिए ऐसी प्राइवेसी पॉलिसी (WhatsApp Privacy Policy) को अनिवार्य करने पर अड़ा है, जिसके तहत वो उनकी निजी जानकारियां अपनी पेरेंट कंपनी फेसबुक के साथ साझा कर सके. वहीं, दूसरी तरफ कानून व्‍यवस्‍था (Law & Order) को बनाए रखने और फेक न्‍यूज (Fake News) पर अंकुश लगाने के लिए लाई गईं भारत सरकार की इंटरमीडियरी गाइडलाइंस (Intermediary Guidelines) को लागू करने से इनकार कर रहा है. केंद्र सरकार ने कहा कि हमारा यूजर्स की निजता का उल्‍लंघन करने का कोई इरादा नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.