Bokaro News : शीतलहर का प्रकोप बढ़ते प्रभाव को देखते हुए उपायुक्त ने जिलेवासियों से की अपील…

0
न्यूज़ सुने

Bokaro News : शीतलहर का प्रकोप बढ़ते प्रभाव को देखते हुए उपायुक्त ने जिलेवासियों से की अपील…

NEWSTODAYJ : बोकारो जिले में शीतलहर का प्रकोप बढ़ता जा रहा है तथा आने वाले दिनों में इसका प्रभाव और बढ़ने की संभावना है। इसको देखते हुए उपायुक्त राजेश सिंह ने जिलेवासियों से अपील की है कि शीतलहर खतरनाक साबित न हो सकती। इसके प्रभाव को कम करने के लिए निम्नलिखित सावधानियों से संबंधित उपाय किए जा सकते हैं :-1. स्थानीय समाचार पत्र, रेडियो, टीवी से मौसम की स्थानीय जानकारी लेते रहे तथा घर के अंदर रहे।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : 1462 रेल यात्रियों की जांच में 5 मिले पॉजिटिव…

2. ठंड से बचाव हेतु मल्टीलेयर ठंडक का कपड़ा रखे तथा जब भी बाहर जाएं तो ऊनी कपड़े पहने, गमछे या टोपी से अपने सिर को ढके और हमेशा जूते चप्पल पहने रहे। 3. अपने घर को गर्म रखें पर्दे शटर आदि का इस्तेमाल करें। रात में दरवाजा एवं खिड़कियां खुली ना रखें। 4. ठंडक के समय कम से कम यात्रा करें तथा वाहन चलाते समय गति नियंत्रित रखें, हेलमेट पहने तथा हाथ में दस्ताने का उपयोग अवश्य करें। 5.अगर आपका आवश्यक काम बाहर का है तो टोपी, गमछा आदि का इस्तेमाल करें और सूखे कपड़ों का प्रयोग करें।6.कोविड-19 से बचाव हेतु अपने मुंह एवं नाक को मास्क से ढक कर रखें। 7.पर्याप्त भोजन करें। पानी को गुनगुना करके सेवन करें तथा ज्यादा प्रोटीन वाले भोजन का सेवन करें जैसे मांस व मेवे, दाल जो शारीरिक ताप को बढ़ाते हैं।8. घर में बना खाद्य सामग्री का प्रयोग करें तथा भोजन करने के समय गर्म कर सेवन करें तथा शरीर को ठंडक से बचाने हेतु त्वचा पर तेल या मोइस्टर क्रीम लगाएं। 9. जहां तक संभव हो सुबह व शाम में घर से बाहर ना निकले तथा वृद्ध एवं बच्चों पर विशेष ध्यान दें ।

यह भी पढ़े…Jharkhand News : महिलाओं के साथ उत्पीड़न और दुष्कर्म की घटना को लेकर प्रदेश भाजपा ने हेमंत सरकार पर साधा निशाना…

10. अपने घर में कोयले की अंगीठी मिट्टी तेल का चूल्हा, हीटर आदि का प्रयोग करते समय सावधान रहें व कमरे को हवादार रखें ताकि जहरीले धुएं से नुकसान ना हो। 11. पालतू जानवरों को घर के अंदर बांधे तथा उनके शरीर ढकने के लिए टाट या बोरे का प्रयोग करें जिससे ठंडक से बचा हो सके ।12. ठंड में शराब का सेवन ना करें, क्योंकि शराब सेवन से नसें सिकूडती है।13. अपने एवं बच्चों को पर्याप्त ऊनी कपड़े पहनाकर रखें ।14. फसलों में हल्की सिंचाई कर दें जिससे पाला का प्रभाव कम हो सके।15. खेती में मिश्रित फसल का उपयोग करें तथा टमाटर, बैगन, सरसों आदि को पाला से बचाने हेतु खेत के किनारे धुआं का इस्तेमाल करें ।16. हवा की गति रोकने हेतु खेत की मेड पर पौधे का रोपण करें जो हवा की गति को कम करने में सहायक हो सके।17. अगर आपकी तबीयत ठीक ना लगे या चक्कर आए तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

यह भी पढ़े…Dhanbad News : स्वास्थ्य केंद्र और चिरकुंडा वासियों का इंतजार मंगलवार को खत्म…

18. घर में ओ आर एस का पैकेट जरूर रखें तथा सभी को इस्तेमाल का तरीका बताएं।ठंड लगने पर क्या करें।ठंडक लगे व्यक्ति को गर्म बिस्तर में लिटा दें। अगर कपड़ा गीला हो तो उसे हटा दें।2. ठंड लगे व्यक्ति को चाय एवं गर्म पदार्थ पीने के लिए दें, जिससे शरीर का तापमान बढ़ सके।3. व्यक्ति को यदि कोल्ड डायरिया हो जाए तो गर्म ओ आर एस/नमक-चीनी का घोल पीने को दें, जो कि शरीर में जल की मात्रा को बढ़ा सकें।4. ठंडक लगे व्यक्ति की हालत में एक घंटे तक सुधार ना हो तो उसे तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में ले जाएं।

यह भी पढ़े…The weather will change : रात में बढ़ेगी ठंड, सुबह में रहेगी धुंध, शुक्रवार से बदलेगा मौसम…

5. पशुओं के चारे में पोषक तत्व की मात्रा में वृद्धि करें तथा मौसम अनुरूप पशु शेड का निर्माण करें।इमरजेंसी की स्थिति में क्या करें।किसी भी इमरजेंसी की स्थिति में पुलिस सहायता के लिए 100, एंबुलेंस की सहायता के लिए 102 एवं पुलिस कंट्रोल रूम के लिए 06542-242 402/ 247891 नंबर पर संपर्क करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here