Black blog : बाघमारा विधायक ने धनबाद मंडलकारा के प्रभारी के खिलाफ बड़ा हमला बोला , की कार्रवाई की मांग , नही तो होगी आंदोलन

0
[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने

यहाँ देखे वीडियो।

Black blog : बाघमारा विधायक ने धनबाद मंडलकारा के प्रभारी के खिलाफ बड़ा हमला बोला , की कार्रवाई की मांग , नही तो होगी आंदोलन…

  • विधायक ने जेल अधीक्षक पर बंदियों की सुविधा में कटौती कर करोड़ों की संपति अर्जित करने का आरोप लगाते।
  • जेल प्रशासन के पास कोई बंदी आग्रह करने जाता है तो उसे जेल ट्रांसफर की धमकी दी जाती है। कोई भी टीम जेल में जांच करने जाती है।

NEWSTODAYJ : धनबाद जिले के बाघमारा विधायक 80 दिनों तक जेल में रहने के बाद बाहर निकलते ही भाजपा विधायक ढुलू महतो ने धनबाद जेल के प्रभारी अधीक्षक सह जेलर अनिमेष चौधरी के खिलाफ बड़ा हमला बोला है। शनिवार शाम स्थानीय भाजपा कार्यालय में प्रेसवार्ता कर विधायक ने जेल अधीक्षक पर बंदियों की सुविधा में कटौती कर करोड़ों की संपति अर्जित करने का आरोप लगाते हुए माननीय न्यायालय, मुख्यमंत्री, मानवाधिकार आयोग तथा जिला प्रशासन से जांच की मांग की।

यह भी पढ़े..Dhanbad : एसएसएलएनटी अस्पताल का अधिग्रहित , संक्रमित गर्भवती माताओं एवं बहनों का होगा इलाज – उपायुक्त…

कहा कि अगर दस से पंद्रह दिनों के अंदर प्रभारी जेल अधीक्षक के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो भाजपा कार्यकर्ता धरना-प्रदर्शन करेंगे। महिला नेत्री के साथ दुष्कर्म के आरोप में शुक्रवार को हाई कोर्ट से जमानत मिलने के बाद विधायक जेल से रिहा हुए हैं। उन्होंने कहा कि धनबाद जेल की स्थिति बहुत दयनीय है। एक हजार बंदी जेल में बंद है। इनमें दो से ढाई सौ बंदियों को कोरोना काल में सर्दी, खांसी जैसी बीमारी है।

यह भी पढ़े…Negligence : छत के छज्जा गिरने से बाल बाल बचे बीसीसीएल कर्मी..

जिनका इलाज सही तरीके से नहीं किया जा रहा है। जेल प्रशासन के पास कोई बंदी आग्रह करने जाता है तो उसे जेल ट्रांसफर की धमकी दी जाती है। कोई भी टीम जेल में जांच करने जाती है तो उसके पहले बंदियों को डरा दिया जाता है कि कोई कुछ बोला तो जेल से ट्रांसफर कर देंगे। विधायक ने कहा कि वे इसका प्रमाण दे सकते हैं। साल दो साल से एक भी बंदी पीटीशन किसी को देने नहीं दिया जाता है।

यह भी पढ़े…Violent skirmish : वर्चस्व को लेकर तीर-धनुष और लाठी-डंडो का जमकर ,खूनी टकराव रघुकुल और सिंह मेंशन के समर्थकों के बीच…

उन्होंने कहा कि जेल मैनुअल के अनुसार सरकार की ओर से प्रत्येक बंदी के लिए ढाई सौ रुपये भोजन के नाम पर आता है। लेकिन एक बंदी के ऊपर मात्र 15 से 20 रुपये भी खर्च नहीं किया जाता है। अगर जेल में किसी भी तरह की अप्रिय घटना घटती है ।

यह भी पढ़े…15August : रांची में कहां होगा स्वतंत्रता दिवस का राजकीय समारोह, DC एवं SSP ने दो स्थलों का मुआयना किया…

जो इसके लिए जेलर की जिम्मेवारी होगी। वे सभी जांच एजेंसियों को मामले को संज्ञान में देकर लड़ाई लड़ेंगे। मौके पर प्रखंड अध्यक्ष बच्चू राय, अशोक मिश्रा, विजय शर्मा, शम्मी शर्मा, राजू शर्मा, गौरचंद बाउरी, डब्ल्यू महथा, मुखिया नरेश गुप्ता, प्रमोद सिंह आदि कार्यकर्ता थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here