Bharat Bandh : पीएम मोदी ने कृषि बिल पर विपक्ष के विरोध को बताया राजनीतिक स्वार्थ, कांग्रेस पर बोला हमला…

0
न्यूज़ सुने

Bharat Bandh : पीएम मोदी ने कृषि बिल पर विपक्ष के विरोध को बताया राजनीतिक स्वार्थ, कांग्रेस पर बोला हमला…

NEWSTODAYJ दिल्ली : संसद में पास हुए कृषि से जुड़े तीन बिलों के विरोध में पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र कर्नाटक और तमिलनाडु समेत देशभर में किसान आज सड़क पर उतर गए हैं। कृषि विधेयकों के खिलाफ किसान संगठनों ने आज भारत बंद बुलाया है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कृषि विधेयकों को लेकर सरकार पर निशाना साधने पर विपक्षी पार्टियों को शुक्रवार को आड़े हाथ लिया और कहा कि जिन्होंने दशकों तक किसानों के नाम पर सिर्फ नारे लगाए।

यह भी पढ़े…Against cyber criminals : साइबर अपराधियों के खिलाफ एसएसपी व एसपी हॉट स्पॉट को चिह्नित करने फर्जी सिम कार्ड बेचने वाले पर FIR दर्ज करें – डीजीपी…

और खोखले वादे किए वे आज अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए उन्हीं के कंधे पर रखकर बंदूक चला रहे हैं।कृषि बिल का किसानों को बताएं फायदा।भारतीय जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के मौके पर BJP कार्यकर्ताओं को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने यह बात कही। संसद में पारित कृषि सुधार से संबंधित विधेयकों को किसानों के जीवन में व्यापक बदलाव लाने वाला करार देते प्रधानमंत्री ने BJP कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे जमीनी स्तर पर छोटे-छोटे किसानों से मिलें और कृषि विधेयकों के फायदों से उन्हें अवगत कराएं।

यह भी पढ़े…Investigation campaign : अंतर्राज्यीय चलने वाली बसों के खिलाफ चला जांच अभियान, तीन बस सीज…

अफवाह फैला रहा विपक्ष।इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने बहुत ही कम समय में पिछले चुनाव में किए गए बड़े वादों को पूरा करने का काम किया है, जिनमें जम्मू एवं कश्मीर से आर्टिकल 370 को निरस्त किया जाना और अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शामिल हैं। प्रधानमंत्री ने कृषि सुधार संबंधी विधेयकों पर विपक्ष के विरोध को राजनीतिक स्वार्थ बताते हुए आरोप लगाया कि वे (विपक्ष) अफवाहें फैलाकर किसानों को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के बाद अनेक दशकों तक किसान और श्रमिक के नाम पर खूब नारे लगे, बड़े-बड़े घोषणा पत्र लिखे गए, लेकिन समय की कसौटी ने सिद्ध कर दिया है कि वो सारी बातें कितनी खोखली थीं।

यह भी पढ़े…Election Commission : आज 12:30 बिहार चुनाव की तारीखों का ऐलान होने की संभावना…

उन्होंने कहा कि राष्ट्र हित और जनहित के बजाय सत्ता को राजनीति का हिस्सा बना लिया गया और कुछ लोगों ने किसानों और श्रमिकों के नाम पर देश में और राज्यों में अनेक बार सरकारें बना ली। लेकिन उन्हें मिला क्या? सिर्फ वादों और कानूनों का उलझा हुआ एक ऐसा जाल जिसे ना तो किसान समझ पाता था, ना ही श्रमिक भाई-बहन समझ पाते थे। पीएम ने कहा कि किसानों को ऐसे कानूनों में उलझा कर रखा गया जिसके कारण वह अपनी ही उपज को अपने मन मुताबिक बेच भी नहीं सकता था।विपक्ष पर लगाया झूठ बोलने का आरोप।पीएम मोदी ने कहा कि सिर्फ नारे थे, खोखले वादे थे। देश अब इन बातों को भलीभांति जानता है।

यह बजी पढ़े…Crime News : चौकीदार से 1 लाख 33 हजार रुपये अपराधी छिनतई कर फरार , जांच में जुटी पुलिस…

कांग्रेस व किसी अन्य दल का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि झूठ बोलने वाले कुछ लोग इन दिनों अपने राजनीतिक स्वार्थ की वजह से किसानों के कंधे पर रखकर बंदूक चला रहे हैं, उन्हें भ्रमित कर रहे हैं और अफवाहें फैला रहे हैं।

यह भी पढ़े…Vigorous movement : विस्थापितों का प्रदर्शन , जमीनों की उचित मुआवजे की मांग , प्रशासनिक भवन के समक्ष जोरदार आंदोलन किया…

उन्होंने पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे किसानों को ऐसी किसी भी अफवाह से बचाएं और कृषि सुधार संबंधी विधेयकों के महत्व को उन्हें समझाएं। उन्होंने कहा कि किसानों को कर्ज लेने की मजबूरी से बाहर निकालने के लिए उनकी सरकार ने कई अहम फैसले पूरी ताकत से लिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here