• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

Bengal,पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले में पार्थ चटर्जी और अर्पिता के खिलाफ ईडी ने दाखिल की चार्जशीट

1 min read

Bengal:पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले में पीएमएलए स्पेशल कोर्ट कलकत्ता के समक्ष पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी सहित आठ आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया है। ईडी अधिकारियों के अनुसार, मनी लॉन्ड्रिंग के लिए छह कंपनियों का इस्तेमाल किया गया था। पार्थ और अर्पिता ने मेसर्स एचे एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड, अनंत टेक्सफैब प्राइवेट लिमिटेड, सिम्बायोसिस मर्चेंट्स प्राइवेट लिमिटेड, सेंट्री इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेड, व्यूमोर हाईराइज प्राइवेट लिमिटेड और एपीए यूटिलिटी सर्विसेज का इस्तेमाल पैसे को ठिकाने लगाने के लिए किया।

 

25 जुलाई को गिरफ्तार हुए थे पार्थ और अर्पिता

 

विशेष अदालत ने सोमवार को अभियोजन शिकायत का संज्ञान लेते हुए पाया कि 8 आरोपियों के खिलाफ प्रथम दृष्टया मामला बनाया गया है। ईडी ने इससे पहले पश्चिम बंगाल सरकार के तत्कालीन मंत्री पार्थ चटर्जी और उनकी करीबी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी को 23 जुलाई को गिरफ्तार किया था। आरोपी फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं और उन्हें 28 सितंबर को फिर से विशेष अदालत में पेश किया जाएगा।

 

ईडी ने अब तक कुल 49.80 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की है। इसके अलावा 5.08 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के सोने और आभूषण और अस्थायी रूप से 48.22 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की है। इस तरह अब तक इस मामले में कुल जब्ती 103.10 करोड़ रुपये पहुंच गई है। पार्थ चटर्जी 21 सितंबर तक के लिए सीबीआई की रिमांड पर हैं। चटर्जी और उनकी करीबी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी को 23 जुलाई को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया था। ईडी ने फ्लैटों से आभूषण और दूसरी संपत्तियों सहित लगभग 50 करोड़ रुपये नकद जब्त किए थे।

 

फार्महाउस, फ्लैट और जमीन की गई कुर्क

 

 

ईडी ने 19 सितंबर को पार्थ और अर्पिता की संपत्ति जब्त की थी। इस कार्रवाई की जानकारी देते हुए ईडी ने कहा था कि कुर्क की गई संपत्तियों में कुल 40.33 करोड़ रुपये मूल्य का एक फार्महाउस, फ्लैट और कोलकाता में स्थित ‘प्राइम लैंड’ जैसी 40 अचल संपत्तियां शामिल हैं। अधिकारियों ने कहा कि कुर्क की गई संपत्तियों पर पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी का स्वामित्व पाया गया है। कुर्क की गई कई संपत्तियां शेल कंपनियों और चटर्जी के लिए प्रॉक्सी के रूप में काम करने वाले व्यक्तियों के नाम पर पंजीकृत थीं।

पार्थ और अर्पिता के 131 बैंक खातों का ईडी को पता चला
बंगाल में शिक्षक घोटाला मामले में गिरफ्तार पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी और उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी की दो कंपनियों के नाम पर ईडी को 131 बैंक खातों का पता चला था। शुरुआत में दोनों की दो कंपनियों अपा यूटिलिटी सर्विस और अनंत टेक्सफैब प्राइवेट लिमिटेड के नौ बैंक खातों का पता चला था।

 

एसएससी के पूर्व अध्यक्ष सीबीआई हिरासत में

 

अलीपुर की एक विशेष अदालत ने पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) के पूर्व अध्यक्ष और उत्तर बंगाल विश्वविद्यालय के मौजूदा कुलपति सुबीर भट्टाचार्य को 26 सितंबर तक सीबीआई हिरासत में भेज दिया। स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) भर्ती घोटाले में जांच के सिलसिले में उन्हें सीबीआई ने सोमवार को गिरफ्तार किया था। सीबीआई ने आरोप लगाया कि वह कई उम्मीदवारों के अंकों के साथ छेड़छाड़ में शामिल था।एजेंसी ने एनबीयू के कुलपति की हिरासत के लिए विशेष सीबीआई अदालत के समक्ष प्रार्थना की और राज्य प्रायोजित और सहायता प्राप्त स्कूलों में शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारियों की भर्ती में अनियमितताओं के बारे में अधिक जानकारी हासिल करने के लिए उनसे पूछताछ करने की मांग की। भट्टाचार्य के वकील तमल मुखर्जी ने अदालत के समक्ष दावा किया कि उन्होंने हमेशा जांच में सहयोग किया है, लेकिन पूछताछ के लिए एजेंसी के कार्यालय में बुलाए जाने के बाद भी उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.