90 के दशक में 50 से भी ज्यादा बम धमाकों के टेरर ऑपरेशन में शामिल डॉक्टर जलील अंसारी उर्फ डॉक्टर बम लापता

90 के दशक में 50 से भी ज्यादा बम धमाकों के टेरर ऑपरेशन में शामिल डॉक्टर जलील अंसारी उर्फ डॉक्टर बम लापता

NEWS TODAY :: 90 के दशक में 50 से भी ज्यादा बम धमाकों के टेरर ऑपरेशन में शामिल डॉक्टर जलील अंसारी उर्फ डॉक्टर बम लापता हो गया है। मुंबई बम धमाकों का आरोपी जलीस अंसारी राजस्थान स्थित अजमेर जेल में बंद था और कुछ दिन पहले ही परोल पर मुंबई में अपने परिवार से मिलने आया हुआ था लेकिन इसके बाद वो लापता है। घरवालों ने उसकी मिसिंग रिपोर्ट दर्ज करवाई है। घरवालों ने बताया है कि जलीस गुरूवार की सुबह नमाज़ पढ़ने के लिए निकला था लेकिन दोपहर तक लौटकर नहीं आया, जिसके बाद पुलिस को खबर दी गई।

अंतरिक्ष की ओर भारत की एक और सफलतापूर्वक कदम-इसरो ने लॉन्च किया GSAT-30 उपग्रह

हालांकि मुंबई पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी है। उसके फोन और लोकेशन के आधार पर फिलहाल उसकी तलाश की जा रही है। अंसारी अग्रीपाडा थाने के अंतर्गत मोमिनपुर का रहने वाला है और उम्र कैद की सजा काट रहा है। पुलिस के मुताबिक पैरोल की अवधि के दौरान अंसारी को रोजाना सुबह साढ़े दस बजे से 12 बजे के बीच अग्रीपाडा थाने आकर हाजिरी लगाने को कहा गया था लेकिन वह गुरुवार को निर्धारित समय पर नहीं पहुंचा।

गौरतलब है कि पेशे से डॉक्टर आतंकी डॉक्टर जलील अंसारी उर्फ डॉक्टर बम सिमी, हिजबुल जैसे टेरर ऑर्गैजेशन से जुड़ा रहा और अजमेर में ब्लास्ट के मामले में उम्रकैद की सजा मिलने के बाद सच्ची जेल में बंद था। बाबरी मस्जिद गिराए जाने के बाद पुणे, अजमेर, मालेगांव, जयपुर और राजधानी एक्सप्रेस में ब्लास्ट करने सहित देश मे हुई कई टेरर एक्टिविटी में शामिल था। 28 दिसम्बर 2019 को सुप्रीम कोर्ट से परोल की अनुमति मिलने के बाद वो मुंबई अपने परिवारवालों से मिलने आया हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here