8 जून से खुलने वाले होटल,धार्मिक स्थल, रेस्टोरेंट के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किये दिशा निर्देश

NEWSTOAYJ-  कोरोनावायरस के बीच देश में 1 जून से अनलॉक 1.0 चल रहा है. पहले फेज में 8 जून से सरकार ने धार्मिक स्थलों, होटल, रेस्टोरेंट और हॉस्पिटैलिटी सर्विस से जुड़ी जगहों, शॉपिंग मॉल को स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर के हिसाब से खोलने की बात कही है. गृह मंत्रालय की ओर से इसे लेकर आज यानी 4 जून को SOP जारी की गई है. मंत्रालय की SOP के मुताबिक, अब कोरोनावायरस के 1 या 2 मरीज निकलने पर पूरी बिल्डिंग 48 घंटे के लिए लॉक नहीं होगी. बल्कि, मरीज जिस स्थान पर गया या रहा होगा, उसी स्थान को सैनिटाइज किया जाएगा.

गृह मंत्रालय की ओर से जारी इस गाइडलाइन में कहा गया है कि 2 से ज्यादा मरीज निकलने की सूरत में ऑफिस या कॉम्प्लेक्स के उस हिस्से को 48 घंटे के लिए सैनिटाइजेशन की खातिर लॉक किया जाएगा. इस दौरान सभी कर्मचारी घर से काम करेंगे.

ऑफिस –

ऑफिस के एंट्री गेट पर सैनिटाइजर डिस्पेंसर का होना जरूरी है. यहीं पर थर्मल स्क्रीनिंग भी सुविधा होनी चाहिएl केवल उन्हीं लोगों को ऑफिस आने की अनुमति दी जाए, जिनमें कोरोनावायरस के लक्षण न दिखाई देंl कंटेनमेंट जोन में रहने वाले स्टाफ को अपने सुपरवाइजर को इस बात की जानकारी देनी होगीl साथ ही उसे तब तक ऑफिस आने की इजाजत न दी जाए, जब तक कंटेनमेंट जोन को डिनोटिफाई न कर दिया जाएl ड्राइवरों को सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना के संबंध में जारी नियमों का पालन करना होगाl दफ्तर के अधिकारी, ट्रांसपोर्ट सेवा देने वाले यह निश्चित करेंगे कि कंटेनमेंट जोन में रहने वाले ड्राइवर गाड़ियां न चलाएंl

ये भी पढ़े…

भारत में 2.16 लाख तो पूरी दुनिया में 66 लाख के पार है कोरोनावायरस के मामले

धार्मिक स्थलों –

एंट्री गेट पर सैनिटाइजर डिस्पेंसर का होना जरूरी हैl यहीं पर थर्मल स्क्रीनिंग भी सुविधा उबलब्ध होनी चाहिएl मास्क पहनकर आने वालों को ही एंट्री दी जाएगीl पोस्टर के जरिए लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक किया जाए और ऑडियो-वीडियो मैसेज चलाए जाएंl लोग अपने जूते-चप्पल अपनी गाड़ी में ही रखकर आएं, अगर जरूरी हो तो अलग स्लॉट में रखा जाएl पार्किंग और मंदिर के परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होl आसपास की दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाना जरूरी हैl

रेस्टोरेंट –

रेस्टोरेंट जाने वालों को एक-दूसरे से 6 फीट की दूरी बनाकर रखनी होगीl साथ ही बिना मास्क के आप रेस्टोरेंट में नहीं जा पाएंगेl गाइडलाइन के मुताबिक, रेस्टोरेंट में बुजुर्गों, गर्भवती महिलाओं और बच्चों को नहीं जाना चाहिएl जितनी भी देर तक लोग रेस्टोरेंट में रहते हैं उतनी देर में लोगों को थोड़ी-थोड़ी देर में हाथ धोते रहना चाहिएl लोगों के हाथ गंदे नहीं हों, तब भी उन्हें थोड़ी-थोड़ी देर में हाथ धोते रहना चाहिएl साथ ही रेस्टोरेंट के स्टाफ को हाथ और मुंह ढककर काम करना होगाlचाहे वह शेफ हो, वेटर हों या अन्य कर्मचारी हों, उन्हें इन नियमों का पालन करना होगाl

होटल –

होटल में आने वाले गेस्ट की ट्रैवल हिस्ट्री, मेडिकल कंडिशन जानने के लिए रिसेप्शन पर फॉर्म भरना जरूरी हैl ज्यादा से ज्यादा काम ऑनलाइन होना चाहिएl लगेज को लगेज रूम में ले जाने से पहले सैनिटाइज जरूर करेंl सीनियर सिटिजन, गर्भवती महिलाओं के मामले में अतिरिक्त सावधानी बरती जाएl होटल के रेस्टोरेंट में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएl साथ ही ज्यादा से ज्यादा डिस्पोजल का इस्तेमाल होl

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *