politics news,पूर्व विधायक मुख्यमंत्री से मिलकर कई समस्याओं को रखा, मिला आश्वासन

न्यूज़ सुने

politics news,पूर्व विधायक मुख्यमंत्री से मिलकर कई समस्याओं को रखा, मिला आश्वासन…

NEWSTODAYJ:गोमिया (बेरमो)। गोमिया के पूर्व विधायक योगेंद्र प्रसाद मंगलवार को विधानसभा भवन में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात कर गोमिया विधानसभा क्षेत्र से जुड़ी कई ज्वलंत समस्याओं से अवगत कराया। वहीं विघटन की प्रक्रिया से गुजर रही गोमिया नगर परिषद क्षेत्र को शीघ्र कैबिनेट से स्वीकृति दिलाने की मांग की। पूर्व विधायक ने उपायुक्त तथा कार्यपालक पदाधिकारी द्वारा विघटन को अनुशंसा करने के बावजूद भी संबंधित एजेंसी द्वारा होल्डिंग टैक्स वसूली पर नाराजगी जाहिर की है। जिस पर मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को निर्देशित करने और अगली कैबिनेट में विघटन से संबंधित स्वीकृति देने का भरोसा दिया है।
इसी प्रकार पूर्व विधायक श्री प्रसाद ने टीवीएनएल की समस्याओं से भी अवगत कराया।

उन्होंने बताया कि उत्पादित बिजली को सप्लाई करने पर टीवीएनएल को पूर्ण भुगतान नहीं कर सिर्फ 25 प्रतिशत के करीब ही प्रतिमाह भुगतान किया जाता है। जिससे टीवीएनएल भारी वित्तीय समस्या से जूझ रहा है। ऐसे में बकाए राशि रिलीज करने का अनुरोध भी किया ताकि टीटीपीएस से निर्बाध रूप से बिजली उत्पादन हो सके। टीवीएनएल के विस्तारीकरण पर मुख्यमंत्री  से कहा कि टीवीएनएल के विस्तार से राज्य बिजली मामले में आत्मनिर्भर हो जाएगा और 10 से 15 हजार लोगों के लिये रोजगार का सृजन भी होगा। उन्होंने टीटीपीएस में अनुकंपा पर नियोजन के बाबत शेष 15 आश्रितों को भी शीघ्र नियोजन दिलाने की मांग की।

यह भी पढ़े।

Drug seizure : ड्रग डिपार्टमेंट ने एक करोड़ रुपये की नशीली दवा जब्‍त की , आरोपी फरार…

इसके अलावे पूर्व विधायक ने मुख्यमंत्री को धवैया में रजरप्पा ब्लॉक टू के तहत कोलियरी खोलने को लेकर प्रबंधन पर जबरन प्रयास करने की शिकायत भी की। अवगत कराया कि रैयतों को हक़, अधिकार दिए बिना ही प्रबंधन कोलयरी खोलने पर आये दिन नए हथकंडे अपना रहा है। जिससे कि रैयत ग्रामीणों में भारी आक्रोश है। इस पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने स्पष्ट रूप से पूर्व विधायक को आश्वस्त किया।

 

जब तक रैयतों को पूर्ण हक व अधिकार नहीं मिलेगा, कोलियरी नहीं खुलेगी। किसी भी रैयत ग्रामीण को परेशान होने की जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री ने पूर्व विधायक की बातों को गंभीरता से लेते हुए अपने आप्त सचिव को समस्या समाधान के बाबत निर्देशित किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here