31 जुलाई तक प्रभावी रहने वाली अनलॉक-2.0 की गाइडलाइंस जारी-जाने क्या क्या हुए बदलाव….

31 जुलाई तक प्रभावी रहने वाली अनलॉक-2.0 की गाइडलाइंस जारी-जाने क्या क्या हुए बदलाव….

NEWSTODAYJकोरोना वायरस के चलते देश में जारी प्रतिबंधों में राहत देने की श्रंखला में केंद्र सरकार ने अनलॉक-2 की गाइडलाइंस जारी की हैंl ये गाइडलाइंस 31 जुलाई तक प्रभावी होंगीl हालांकि अनलॉक-2.0 में रात्रि कर्फ्यू लगा रहेगा, इसकी अवधि अब रात्रि 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगीl  सरकार ने साफ कर दिया कि नाइट कर्फ्यू ग्रीन, रेड, ऑरेंज सभी जोन में रहेगाl इस दौरान व्यक्तिगत तौर पर लोगों की गतिविधि पर कड़ाई के साथ रोक होगीl

ये भी पढ़े…

बोकारो: बैक डोर से चल रहा था सील गिट्टी क्रशर, एसडीएम ने की छापेमारी, दो ट्रेक्टर जब्त

गृह मंत्रालय की अनलॉक-2.0 की गाइडलाइंस के मुताबिक, रात्रि कर्फ्यू में आपातकालीन सेवाओं से जुड़े लोगों, आवश्यक गतिविधियों से जुड़े लोगों, कई शिफ्टों में काम करने वाली औद्योगिक ईकाईयों का कामकाज, राष्ट्रीय राजमार्गों से सामान लाने ले जाने वालों, खाली और भरे हुए कार्गो, बस, ट्रेन और हवाई जहाज से यात्रा कर अपने गंतव्य को जाने वाले लोगों को छोड़कर सभी की आवाजाही पर पाबंदी रहेगीl इस बारे में क्षेत्रीय प्रशासन को उचित कानून, जैसे सीआरपीसी की धारा 144 के अंतर्गत आदेश जारी करने चाहिए और इनका कड़ाई से पालन कराना चाहिएl

31 जुलाई तक रहेंगे बंद

  • नई गाइडलाइंस के मुताबिक, स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थान बंद रहेंगेl ऑनलाइन और डिस्टेंस लर्निंग जारी रहेगी और इसे बढ़ावा दिया जाएगाl सभी तरह की अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा पर प्रतिबंध जारी रहेगाl मेट्रे सेवाएं बंद रहेंगीl
  • सिनेमा हॉल, जिम, स्विमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थियेटर, बार, ऑडिटोरियम, एसेंबली हॉल और ऐसी सभी जगह 31 जुलाई तक बंद रहेंगेl सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजनों पर भी फिलहाल रोक रहेगीl
  • कंटेनमेंट जोन का निर्धारण जिला प्रशासन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशानिर्देशों का ध्यान रखते हुए करेगाl जिसका मकसद प्रभावशाली तरीके से संक्रमण की कड़ी को तोड़ना होगाl इन कंटनेमेंट जोन के बारे में संबंधित जिला कलेक्टर और राज्य या केंद्रशासित प्रदेश की वेबसाइट पर जानकारी दी जायेगी और इस जानकारी को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ साझा किया जायेगाl
  • कंटेनमेंट जोन में सिर्फ जरूरी कामों की अनुमति होगी. कंटेनमेंट जोन के अंदर और बाहर लोगों की आवाजाही को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगेl सिर्फ मेडिकल इमरजेंसी के केस और जरूरी सामानों की आपूर्ति को ही मंजूरी दी जाएगीl

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here