हाइवे पर पैदल चलने वाले लोगों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के साथ छायादार स्थान पर निशुल्क भोजन और पानी की होगी व्यवस्था-मुख्यमंत्री

हाइवे पर पैदल चलने वाले लोगों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के साथ छायादार स्थान पर निशुल्क भोजन और पानी की होगी व्यवस्था-मुख्यमंत्री

NEWS TODAY – लॉकडाउन 4 के शुरुआत होने के साथ ही मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोमवार को प्रवासी राहगीरों की सहूलियत के लिए राज्य की सीमा में हाईवे पर हर बीस किलोमीटर पर सामुदायिक किचन खोलने का निर्देश दिया है। छायादार स्थान पर निशुल्क भोजन और पानी की व्यवस्था की जाएगी। इसके साथ ही पैदल चलने वाले लोगों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है।

ऐसे लोगों के लिए आराम और भोजन के साथ स्वास्थ्य जांच की व्यवस्था भी कराई गई है। जगह-जगह बने शिविर में इन लोगों को इकट्ठा किया जाएगा। उसके बाद उन्हें गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था भी राज्य सरकार करेगी। वहीँ दूसरे राज्य के पैदल मुसाफिरों को भी उनके राज्य के नोडल अधिकारी से समन्वय कर गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था झारखंड सरकार कर रही है। वहीँ सूबे के मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य में 31 मई तक दीदी किचन खुले रहेंगे। आपको बता दें कि करीब 7000 स्थानों पर दीदी किचन का संचालन किया जाता रहेगा।

ये भी पढ़े..

चक्रवाती तूफान एमफन पर आज शाम PM मोदी करेंगे हाईलेवल बैठक

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार अध्ययन कर रही है कि कहां छूट देनी है और कहां नहीं देनी है। राज्य में प्रवासी श्रमिकों के लौटने से चुनौतियां बढ़ी हैं, इन सभी स्थितियों पर गौर करते हुए नए सिरे से लॉक डाउन के स्वरूप पर सोचना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here