• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

हथियार और गोलियों के साथ आर्म्स सप्लायर गिरफ्तार

1 min read

यहाँ देखे वीडियो।

हथियार और गोलियों के साथ आर्म्स सप्लायर गिरफ्तार

NEWSTODAY – मुंगेर पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह के निर्देश पर की गई कार्रवाई के दौरान पुलिस और एसटीएफ ने हथियार और गोलियों के साथ आर्म्स सप्लायर को गिरफ्तार किया हैl

ये भी पढ़े -प्रेम का संदेश देने विदेश से चलकर थाईलैंड बर्मा बांग्लादेश होते हुए झारखंड पहुची:हेना कन

पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि मुफस्सिल थाना क्षेत्र के दियारा से आर्म्स लेकर कुछ लोग आ रहे हैं. पुलिस अधीक्षक ने मुफस्सिल थानाध्यक्ष ब्रजेश कुमार, कासिम बाजार थानाध्यक्ष शैलेश कुमार और एसटीएफ जमालपुर अभियान दल की संयुक्त टीम का गठन कर कार्रवाई का निर्देश दिया. एसटीएफ अभियान दल की मदद से की गई कार्रवाई के दौरान मुफस्सिल थाना अंतर्गत मिर्जापुर बरदह निवासी मोहम्मद असलम को गिरफ्तार किया गया. उसके पास से एक देसी कट्टा, 9 एमएम की एक पिस्टल, 9 एमएमए पिस्टल की दो मैगजीन, 7.65 बोर की एक पिस्टल, 7.65 एमएम पिस्टल की दो मैगजीन, 9 एमएम की 16 जिंदा गोलियां, .315 बोर की 21 जिंदा गोलियां बरामद की गई हैं. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार मोहम्मद असलम के खिलाफ पहले भी मुकदमे दर्ज थे तथा उसके खिलाफ पुलिस ने पुराने मामलों में आरोप पत्र समर्पित कर रखा था. दियारा इलाके में उसकी सक्रियता बढ़ी हुई थी और पुलिस ने हथियारों के साथ उसे गिरफ्तार किया है. एसटीएफ और जिला पुलिस बल की संयुक्त कार्रवाई के दौरान कुछ अपराधी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकले. पुलिस को उनकी गिरफ्तारी का निर्देश दिया गया है. गिरफ्तार मोहम्मद असलम ने स्वीकार किया है कि वह दियारा में हथियार बनवा कर आ रहा था तथा हथियारों की बिक्री करने के लिए उसे दूसरी पार्टी को सौंपा जाना था. इससे पहले कि वह हथियारों की डिलीवरी कर पाता उसे पुलिस ने दबोच लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें