हड़ताल से पावापुर निवासी सहित 25 मरीजों की रिम्स में मौत अमानवीय ) संतोष महतो

0
60



धनबाद।



गोमो : हड़ताल से पावापुर निवासी सहित 25 मरीजों की रिम्स में मौत अमानवीय ) संतोष महतो …..

गोमो / पावापुर गांव के तिलक महतो का शव रिम्स (रांची) से पहुंचते ही गांव में चीत्कार से हर लोगो के आंखे हुई नम



  • 21 मई को तिलक महतो की सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गया था।
  • जिसका इलाज रांची रिम्स में चल रहा था।लेकिन रिम्स में हड़ताल के दौरान इलाज नही होने से तिलक महतो ने दम तोड़ दिया।
  • हड़ताल के दौरान राज्य के 25 गरीब मरीज का जान जा चुंका था।

तिलक की मौत के बाद उसके घर मे पहाड़ टूट पड़ा……..

तिलक महतो की मौत इलाज में लापरवाही के कारण सोमवार को हुई
मंगलवार को शव का पोस्टमार्टम होकर पहुंचा।

मौके पर परिवार को सांत्वना देने पहुँचे पूर्व जिप उपाध्यक्ष संतोष महतो ने घटना के प्रति आक्रोश जताते हुए कहा कि रिम्स में नर्सों व डाॅक्टर की हड़ताल से 25 गरीब मरीज बे मौत मारे गए.

यह झारखण्ड के सबसे बडे़ अस्पताल के लिए एक अमानवीय व शर्मनाक स्थिति को दर्शाता है……

इस अमानवीय कृत्य की जितने कड़े शब्दों में निंदा की जाए कम होगी । उन्होंने परिवार की मांग पर जिला प्रशासन से प्रभावित परिवार को उचित मुआवजा देने का आग्रह किया है ताकि उनके छोटे-छोटे बच्चों का भरण-पोषण हो सके।

मुखिया पप्पू महतो ने मृतक के परिनजो को कहा कि सरकार से मिलने वाली हर योजना का लाभ दिया जाएगा।

रखे आप को आप के आस पास के खवरो से आप को आगे.newstodayjharkhand.com watsaap9386192053

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here