स्पेशल ट्रेन में सिमडेगा जिला की एक महिला ने स्वस्थ बच्चे को दिया जन्म

स्पेशल ट्रेन में सिमडेगा जिला की एक महिला ने स्वस्थ बच्चे को दिया जन्म…

संवाददाता-बबलु कुमार !

NEWSTODAYJ:बोकारो। केंद्र और राज्य सरकार के पहल के पश्चात लॉक डाउन की वजह से दूसरे राज्यों में झारखण्ड के विभिन्न जिलों के 1047 श्रमिक एवं छात्र आज स्पेशल ट्रेन से एर्णाकुलम, केरल से बोकारो स्टील सिटी स्टेशन पहुंची। इस दौरान जिला प्रशासन द्वारा सभी श्रमिकों का स्वागत किया गया एवं उनके सकुशल घर वापसी हेतु ढेरों शुभकामनाएं दी गयी। यहां आने वाले सभी श्रमिकों को ट्रेन से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए ट्रेन से उतारा गया एवं स्टेशन परिसर में स्वास्थ्य परीक्षण हेतु बने काउंटर में उनका थर्मल स्कैनिंग व स्वास्थ्य जांच संबंधी अन्य सभी प्रक्रिया पूरी की गई। इसके बाद उन्हें उनके गंतव्य तक जाने हेतु अलग-अलग जिलों की बस में बैठाकर बोकारो रेलवे स्टेशन से रवाना किया गया।

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

झारखंड के कुल 16 जिलों में से कुल 1047 लोग आए-

प्रवासी मजदूरों में झारखंड के कुल 16 जिलों में से कुल 1047 लोग आये जो जिलेवार निम्न है :-
बोकारो- 27, चतरा -09, धनबाद-43, पूर्वी सिंहभूम-15, गढ़वा-180, गुमला- 38, लातेहार-324, रामगढ़-02, पलामू-56, सरायकेला खरसावां-08, सिमडेगा-73, खूंटी-07, हजारीबाग- 26, लोहरदगा- 110, राँची- 106, पश्चमी सिंहभूम-06 एवं अन्य-17।जिला व प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों व रेल पुलिस के पदाधिकारियों के साथ मेडिकल टीम को किया गया तैनात-गुजरात से आने वाले मजदूरों, छात्रों, तीर्थयात्री एवं अन्य लोगो को उपायुक्त श्री मुकेश कुमार एवं अनुमंडल पदाधिकारी चास श्री शशि रंजन सिंह के निर्देशानुसार बोकारो स्टेशन के प्लेटफार्म पर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे। इसके अलावे आने वाले लोगों के स्वास्थ्य जांच व थर्मल स्कैनिंग हेतु मेडिकलन टीम की भी तैनाती की गयी थी।

यह भी पढ़े।

प्रवासी श्रमिकों के वापसी के लिए CM हेमंत सोरेन ने उद्योगों और कॉरपोरेट घरानों से किया आग्रह

सभी को 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन का अक्षरशः पालन करने का निर्देश दिया-

उपायुक्त मुकेश कुमार द्वारा बताया गया कि बाहर से आने वाले सभी श्रमिक बंधुओं के बीच नास्ता, पानी, का वितरण करते हुए सभी को 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन का अक्षरशः पालन करने का निर्देश दिया गया। इसके अलावे उन्होंने आगे कहा कि मास्क का उपयोग कर व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करके हीं हम इस कोरोना नामक महामारी को हराकर इस पर जीत हासिल कर सकते है। इसलिए आवश्यक है कि हम सभी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन एवं चिकित्सकों द्वारा दिए गए चिकित्सकीय परामर्श का अक्षरशः पालन करें एवं स्वस्थ, सतर्क व सुरक्षित रहें। एर्नाकुलम, केरल से बोकारो आने वाले सभी मजदूरों एवं स्थानीय लोगों के स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिकोण से जिला प्रशासन द्वारा सभी एहतियाती उपाय अपनाये गए हैं। सुरक्षा के दृष्टिकोण से केरल से आने वाले सभी मजदूरों को उनके गंतव्य स्थान तक भेजने हेतु प्रयोग किये जाने वाले बसों को पूर्णतः सेनेटाइजड कर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया है।

स्पेशल ट्रेन में सिमडेगा जिला की एक महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया-

यह भी पढ़े।

नक्सलियों ने मचाया तांडव सड़क निर्माणकार्य में लगी चार वाहन किये आग के हवाले

अर्नाकुलम केरल से झारखंड के बोकारो स्टील सिटी रेलवे स्टेशन पहुंची सनी का स्पेशल ट्रेन में सिमडेगा जिला की एक महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। जच्चा एवं बच्चा दोनों पूरी तरह से स्वस्थ है। बोकारो रेलवे स्टेशन से स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा सदर अस्पताल बोकारो में बेहतर इलाज के लिए लाया गया है। उक्त महिला का बेहतर इलाइज हो रही है।

सुरक्षा के दृष्टिकोण से रेलवे स्टेशन पर उठाये गए सभी कदम-

श्रमिकों के आगमन को लेकर बोकारो स्टील सिटी रेलवे स्टेशन परिसर को पूर्ण रूप से सैनेटाइजड किया गया था एवं सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन हेतु जगह-जगह बेरिकेड्स कर गोल घेरा का निर्माण कराया गया था। इसके अलावे सुरक्षित व्यवस्था व विधि-व्यवस्था संधारण हेतु बोकारो रेलवे स्टेशन परिसर में पर्याप्त संख्या में मेडिकल टीम के साथ दण्डाधिकारी एवं सुरक्षाकर्मियों की तैनाती पूर्व से ही की गई थी।श्रमिकों को 46 बसों एवं 01 छोटे वाहनों के माध्यम से भेजा गया, अपने-अपने गृह जिला की ओर-श्रमिकों के आने के पश्चात सर्वप्रथम स्वास्थ्य जांच के उपरांत सभी के लिए भोजन की व्यवस्था रेलवे स्टेशन पर ही की गई थी, जिसके उपरांत स्टेशन परिसर से 16 जिलों के लिए निर्धारित 46 बसों एवं 01 छोटे वाहनों में बैठाकर मजदूरों को उनके घरों के लिए रवाना किया गया। वहीं इस दौरान सभी प्रवासी श्रमिकों को भोजन का पैकेट, पानी का बोतल आदि भी उपलब्ध कराया गया।कोरोना से बचाव के इस जंग में बेहतर टीम भावना के साथ कार्य करने हेतु सभी अधिकारियों व कर्मियों को धन्यवाद दिया।उपायुक्त मुकेश कुमार के द्वारा बोकारो जिला के सभी पदाधिकारियो, डॉक्टर, स्वास्थ्य कर्मियों, सुरक्षाकर्मियों, सफाई कर्मियों, व अन्य सभी कर्मियों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा गया कि कोविड-19 से बचाव के इस जंग में जिस प्रकार सभी ने बेहतर टीम भावना के साथ कार्य किया है, वह वाकई काबिले तारीफ है। सभी के सहयोग से हीं हम कोरोना नामक इस महामारी का डटकर मुकाबला कर पा रहे हैं। संकट की इस घड़ी में निज हित से परे हटकर सभी बेहतर कार्य कर रहे हैं। आशा है कि इसी प्रकार आप सभी के द्वारा सेवा भाव व टीम भावना के साथ किये गए कार्य व परस्पर सहयोग से हम जल्द हीं कोरोना नामक महामारी को हरा कर इस पर जीत हासिल कर पायेंगे।इस दौरान डीपीएआर पशुपतिनाथ मिश्रा, अनुमंडल पदाधिकारी चास शशिप्रकाश सिंह, एएसएम बोकारो रेलवे स्टेशन प्रदीप प्रकाश, जिला परिवहन पदाधिकारी संतोष कुमार गर्ग, पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय सतीश चंद्र झा सहितअन्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here