स्थायी कर्मचारी बताकर अस्थायी तौर पर कार्यरत लिपिकों ने फर्जी कर 49.5 लाख रुपये निकासी कर ली 

स्थायी कर्मचारी बताकर अस्थायी तौर पर कार्यरत लिपिकों ने फर्जी कर 49.5 लाख रुपये निकासी कर ली 

NEWS TODAY दुमका फर्जी स्थायी लिपिक बताकर लाखो के निकासी का मामला सामने आया हैl बताते चले की जिला शिक्षा पदाधिकारी के कार्यालय में तैनात चार अस्थायी लिपिकों ने खुद को स्थायी लिपिक बताकर 49.5 लाख की अवैध निकासी कर लीl उपायुक्त द्वारा गठित जांच टीम ने अवैध निकासी का मामला उगाजर किया, जिसके आधार पर क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक राजकुमार सिंह के निर्देश पर गुरूवार की शाम अवर प्रमंडल शिक्षा पदाधिकारी छक्कू लाल ने लिपिक मनोज कुमार साह, संतोष मंडल, मो. इश्तेखार व शशि भूषण श्रीवास्तव के खिलाफ नगर थाने में मामला (FIR) दर्ज कराया हैl इश्तेखार को एसीबी (ACB) की टीम ने पिछले माह एक लाख रुपया घूस लेते हुए पकड़ा था और वह अभी जेल में हैl

ये भी पढ़े…

चासनाला खदान में फिर बड़ा हादसा-कोयले के मलबे में दबने से एक मजदूर की मौत कई को निकाला गया सुरक्षित

प्राथमिकी में कहा गया कि चारों आरोपी लंबे समय से अस्थायी लिपिक के रूप में काम कर रहे हैंl कुछ साल पहले इन लोगों ने फर्जीवाड़ा कर खुद को स्थायी लिपिक बना लियाlऔर इसी आधार पर वेतन की निकासी कर लीl चारों की नियुक्ति वैध नहीं हैl जिस तरह से वेतन की निकासी की है, वह पूरी तरह से न्याय संगत नहीं हैl

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here