सोनभद्र आदर्श इंटर महाविद्यालय के संस्थापक का निधन पर शोक सभा

(गढ़वा)

सोनभद्र आदर्श इंटर महाविद्यालय के संस्थापक का निधन पर शोक सभा….

गढ़वा : जिले के कांडी प्रखण्ड स्थित सोनभद्र आदर्श इंटर महाविद्यालय के संस्थापक- दुखभजन युमला का स्वर्गवास मेदिनीनगर में सात दिसम्बर को हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे। अकस्मात मौत की खबर मिलते ही महाविद्यालय के सभी कर्मी मर्माहत हो गए। संस्थापक की मौत पर महाविद्यालय के सभी कर्मियों द्वारा शोक सभा आयोजित कर दुःख व्यक्त किया गया। प्राचार्य-बीरेंद्र कुमार तिवारी ने कहा कि वे दृढ़ इच्छा शक्ति के एक महान व्यक्ति थे। वह 1984 ई. में सोनभद्र आदर्श इंटर कॉलेज कांडी की स्थापना की थीप्राचार्य ने कहा कि उन्हीं के बदौलत तो आज कांडी प्रखंड के सभी गरीब तबके के छात्र-छात्राएं शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। बता दें कि वे राजकीयकृत प्लस टू हाई स्कूल में सहायक शिक्षक से लेकर प्राचार्य पद पर भी कार्य किए। इनका कार्यभार अति सराहनीय रहा। उक्त महाविद्यालय के कर्मी एवं शिक्षकों ने उनकी मृत-आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा। शोक व्यक्त कर्ता- आशुतोष कुमार मिश्रा, शोभा मिश्रा, बबन पांडेय,उमाशंकर, बबन चौबे,अरविंद कुमार,वंदना कुमारी,रेखा कुमारी,सत्येंद्र कुमार दुबे, नरेंद्र पांडेय,सत्येंद्र पाठक, मथुरा प्रसाद,शिवनाथ तिवारी,जंग बहादुर यादव,विकास प्रजापति,अलखनाथ तिवारी,शैलेन्द्र बैठा,राजेश गुप्ता,अंजू श्रीवास्तव सहित सैकड़ों की संख्या में पूरा महाविद्यालय परिवार उपस्थित था।NEWSTODAYJHARKHAND.COM

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here