• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले कि निष्पक्ष जांच के लिए चिराग पासवान ने उद्धव ठाकरे को लिखा पत्र

1 min read

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले कि निष्पक्ष जांच के लिए चिराग पासवान ने उद्धव ठाकरे को लिखा पत्र

 

NEWSTODAYJअभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या मामले में जांच की मांग अब तेज होने लगी है.देश के लोगो में बॉलीवुड में चल रहे वंशवाद के प्रति नाराजगी और गुस्सा हैं l विभिन्न राजनीतिक दलों और फिल्मी सितारों द्वारा इस आत्महत्या की गुत्थी सुलझाने की मांग कि जा रही हैं l लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिखी लिख क्र अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत बिहार के गौरव थे और पूरा बिहार उन्हें न्याय दिलाने की मांग कर रहा है। चिराग पासवान ने उद्धव ठाकरे से फोन पर हुई बातचीत का जिक्र करते हुए पत्र में लिखा है कि बिहार से आने वाले एक युवा जो कि अपने अभिनव के कारण ना सिर्फ बिहार, बल्कि पूरे देश में लोकप्रिय था, उसने 14 जून को आत्महत्या कर ली. हर बिहारवासियों की तरफ से मैं आपसे आग्रह करता हूं कि आप इस मामले की निष्पक्ष जांच करवाएं ताकि भविष्य में कोई प्रतिभाशाली गुटबंदी का शिकार न हो।

चिराग ने आगे लिखा, ‘मैं उनके परिवार के कुछ सदस्यों से लगातार संपर्क में हूं और उनकी आत्महत्या करने के बाद करीबियों ने इसके पीछे किसी साजिश की ओर इशारा किया है. सभी का यह मानना है कि सुशांत भारतीय फिल्म जगत में पनप रहे गुटबंदी का शिकार हुए हैं. चिराग ने लिखा है कि गुटबंदी के कारण बड़े निर्माताओं ने सुशांत का बहिष्कार कर दिया था, जिसके कारण उन्हें आत्महत्या करनी पड़ी. ऐसा कई लोगों का कहना हैl

चिराग में उद्धव ठाकरे से मांग करते हुए लिखा है कि इस मामले की गंभीरता से जांच करवाई जाए साथ ही उन सभी पर भी कार्रवाई की जाए जो छोटे शहरों से आए प्रतिभावान लोगों को आगे बढ़ने से रोकते हैं. इससे पहले भी चिराग पासवान ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार को चिट्ठी लिख कर इस घटना की जांच कराने की मांग की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.