सुरक्षित रेलयात्रा करवा पाने में नाकाम रेल मंत्रालय:पढ़े पूरी खबर

0
76

(मोकामा)

सुरक्षित रेलयात्रा करवा पाने में नाकाम रेल मंत्रालय….!

मोकामा:-सरकार के सुरक्षित रेल यात्रा के दावों के बीच एक बार फिर सोमवार रात पटना-क्यूल रेलखंड के मोकामा के पास हथियारबंद लुटेरों ने ट्रेन में बैठे रेल यात्रियों से लूटपाट एवं मारपीट की।जानकारी के मुताबिक हरिद्वार-हावड़ा उपासना एक्सप्रेस के मोकामा से खुलते ही हथियारबंद लुटेरों ने यात्रियों से लूटपाट शुरू कर दी।नकद और जेवरात लूट लिए।विरोध करने पर रेल यात्रियों को चलती ट्रेन से धक्का देने की भी कोशिश की।रामपुर डुमरा स्टेशन के पास ट्रेन के रुकने पर ये ट्रेन लुटेरे आराम से उतर कर चलते बने। यात्रियों के अनुसार ट्रेन में एस्कॉर्ट पार्टी मौजूद नहीं थी।यात्रियों ने बताया कि मोकामा से ट्रेन खुलने के बाद एक छोटे से हॉल्ट पर भी गाड़ी रुकी और फिर स्टॉपेज नहीं होने के बावजूद रामपुर डुमरा स्टेशन पर भी गाड़ी रुकी,जहां लुटेरे अपना काम कर आराम से चलते बने।ऐसा नहीं है कि ट्रेन में लूटपाट की यह पहली घटना है।राजेंद्र सेतु,हाथीदह से रामपुर डुमरा स्टेशन के बीच रेल यात्रियों से लूटपाट की घटना आम हो चुकी है।पिछले एक-दो वर्षों का रिकॉर्ड निकाला जाए तो इस क्षेत्र में लुटेरों ने रेल यात्रियों से लूटपाट की दर्जनों घटनाओं को अंजाम दिया है। रेलवे सुरक्षा बल और जीआरपी के उच्च अधिकारियों को भी इसकी भली-भांति जानकारी है।बावजूद इसके ये क्षेत्र लुटेरों का सबसे सुरक्षित पनाहगार चुका है।तकनीकी रूप से रेल संचालन में इतनी खामी है कि बिना स्टॉपेज ट्रेनों को जहाँ-तहाँ रोक दिया जाता है।इसी रेलखंड के पुनारख स्टेशन के पास कई ट्रेनों को शराब माफिया चैन पुलिंग कर रोकते हैं और अन्य राज्यों से लाए शराब को आराम से उतारते हैं।विरोध करने पर कई बार पुलिस और माफियाओं में भिड़ंत हो चुकी है।अंत में पुलिस को ही पीछे हटना पड़ा है।बावजूद इसके शराब तस्करों का काम बदस्तूर जारी है।कई बार यात्रियों को इसकी वजह से परेशानी का सामना करना पड़ा है।

एक तरफ देश में बुलेट ट्रेन लाने की बात हो रही है,जबकि वहीं दूसरी ओर सरकार रेल यात्रियों को सुरक्षित रेल यात्रा उपलब्ध करवाने में भी नाकाम रही है।पूरे देश में रेल यात्रियों की सुरक्षा के लिए एक तंत्र बना हुआ है, लेकिन अक्सर वो तंत्र ट्रेनों में अवैध वसूली करता ही नजर आता है। जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों को इस पर गंभीरता से ध्यान देने की आवश्यकता है।NEWSTODAYJHARKHAND.COM

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here