• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

सीएमडी को मांग पत्र सौपेंगे पिछरी के रैयत, टुंगरी कुल्ही में रैयतों व विस्थापितों ने की बैठक। पढ़ें पूरी खबर…….

1 min read

बोकारो।

सीएमडी को मांग पत्र सौपेंगे पिछरी के रैयत, टुंगरी कुल्ही में रैयतों व विस्थापितों ने की बैठक। पढ़ें पूरी खबर…….

बोकारो। सीसीएल सीएमडी गोपाल सिंह आज ढोरी प्रक्षेत्र के बंद पिछरी कोलियरी का दौरा करेंगे। इस क्रम में रैयतों व विस्थापितों मोर्चा की ओर से उन्हें ज्ञापन सौंपा जाएगा। इसे लेकर शनिवार को पिछरी कोलियरी से सटे गांव टुंगरी कुल्ही में आजसू पार्टी के केंद्रीय सचिव सह विस्थापित नेता काशीनाथ सिंह के नेतृत्व में रैयतों की बैठक हुई। काशीनाथ सिंह ने कहा कि सीसीएल प्रबंधन का 500 बिघा जमीन का दावा फैल हो चुका है। इसके बाद 34.34 एकड जमीन में 10 एकड जमीन गैर मजरूवा है। 10 एकड़ का मामला तेनुघाट न्यायालय में लंबीत है। मापी के दौरान सीसीएल अधिकारी से 34.34 एकड़ जमीन की मांग की गई थी। लेकिन इसे देने में प्रबंधन असफल रही है। कहा कि मापी में शिध हो गया है कि वर्तमाण खदान रैयतों की जमीन है। कहा कि प्रबंधन ने विना जमीन का अधिग्रहण किए कोयला खान कर ले गई। कहा कि सीसीएल से सबसे बडा दोषी है। इसलिए रैयतों को हर्जाना देना चाहिए। कहा कि लोगों द्वारा अवैध खानन करने पर प्रशासन मामला दर्ज करती है। लेकिन सीसीएल खनन कर कोयला ले जाया गया, इसपर अबतक मामला दर्ज नहीं किया गया है। कहा कि प्रबंधन बंद पिछरी कोलियरी चालू कराने की तैयारी कर रही है। इसी को लेकर आगामी 8 सितंबर को पिछरी कोलियरी पहुंचकर 14 एकड़ जमीन का निरीक्षण करेंगे। जीएम द्वारा बंद पिछरी कोलियरी की जमीन की वस्तु स्थिति की सही जानकारी सीएमडी को सीसीएल प्रबंधन बिना जमीन अधिग्रहण किए कोयला निकाल कर ले गया। फिर प्रबंधन किस आधार पर कोलियरी चालू करना चाहता है। यहां के रैयतो को नौकरी, मुआवजा, पुर्नवास दिए बिना कोलियरी को चालू नहीं होने देंगे। कहा कि 8 सितंबर को सीएमडी के दौरा में यहां के विस्थापित रैयत द्वारा ज्ञापन सौंपा जाएगा। कहा कि सीसीएल प्रबंधन के धमकी से पिछरी के रैयत डरने वाला नही है। प्रबंधन दामोदर नदी व सरकारी जमीन का अतिक्रमण की गई। इसकी जानकारी सीएमडी को दी जाएगी। कहा कि प्रबंधन रैयतों के हित में बात करें, अन्यथा रैयत आंदोलन करने को बाध्य होंगे। मौके पर सूरज महतो, काली सिंह, रोहित सिंह, महेंद्र सिंह, तुलसी सिंह, इंदू शर्मा, दिलचंद महतो, गोपाल मल्लाह, गोपाल महतो, बद्री सिंह, देविन मल्लाह, कजली देवी, गांगो देवी, हालिमा खातुन, सरस्वती देवी, उपाशी देवी, खेदनी देवी सहित दर्जनों लोग मौजूद थे।

NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें