• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

सीआरपीएफ जवान व उनके परिजनों ने एससी एसटी एक्ट के तहत दर्ज दो वर्ष पुराने मामले में लगाई न्याय की गुहार

1 min read

सीआरपीएफ जवान व उनके परिजनों ने एससी एसटी एक्ट के तहत दर्ज दो वर्ष पुराने मामले में लगाई न्याय की गुहार

NEWSTODAYJ (निरंजन सिन्हा) छतरपुर/पलामू- वर्तमान में जम्मू – काश्मीर में तैनात छतरपुर के काला पहाड़ ग्राम निवासी सीआरपीएफ के जवान ने अपने परिवार के लिए न्याय व सुरक्षा हेतु पलामू पुलिस से गुहार लगाई है । छतरपुर प्रखंड अंतर्गत काला पहाड़ ग्राम निवासी स्व शंभू पासवान के पुत्र भीम पासवान बताते है कि उनकी माता जी ने दो वर्ष पहले छतरपुर थाने में एससी/ एसटी एक्ट के तहत कांड संख्या 105/2017 दर्ज कराई थी जिस मामले में अब तक कोई करवाई नहीं किए जाने से नाराज़गी जताते हुए न्याय की गुहार लगाई है । भीम पासवान वर्तमान में जम्मू कश्मीर में सीआरपीएफ सी /133 बटालियन में तैनात है व देश को आंतांकियो से सुरक्षित रख रहे है लेकिन इस दौरान उन्हें अपने परिजनों की सुरक्षा की चिंता सताती रहती है । उनका कहना है कि करीब दो वर्ष पूर्व गांव के ही रामगुलाम यादव सहित अन्य पांच लोगो के द्वारा उनके जमीन पर कब्ज़ा करने की कोशिश की जा रही थी जिसे देख घर में अकेले रह रही उनकी मां और बहन ने इस पर विरोध जताया , जिसके बाद सभी ने उनकी मां शकुंटी कुंवर पर व उनकी छोटी बहन पर लाठी डंडे से प्रहार करते हुए जातिसूचक शब्द का प्रयोग कर गाली गलौज भी की थी जिसे लेकर छतरपुर थाने में एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ था

थाने में मामला दर्ज होने के बाद उक्त लोगो के द्वारा व अन्य नंबरों से नक्सली के नाम पर उन्हें व उनके घर वालो को धमकी दी जाने लगी थी, जिसे लेकर भीम पासवान हमेशा चिंतित रहते थे लेकिन छुट्टी नहीं ले सकते थे जिसके बाद उन्हें लगातार चिंतित देख उस वक्त के सीआरपीएफ 133 वी बटालियन के कमांडेंट संजय सिंह ने तत्कालीन पुलिस अधीक्षक को पत्र लिख इस बात से अवगत कराते हुए उक्त विवाद का निपटारा प्राथमिकता के आधार पर करने की बात कहीं थी ताकि कार्मिक तनावमुक्त होकर देश की सेवा कर सके । भीम पासवान का कहना है कि इन सब के बावजूद तब से लेकर अब तक मामला दर्ज होने के बाद किसी तरह की कानूनी प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ाई गई , इस दौरान व कई बार छुट्टी लेकर घर आए और अधिकारियों से मिलते भी रहे , यहां दोषी पर किसी तरह की करवाई ना होने से उन्हें सह मिल गई है और उनके द्वारा लगातार जवान के परिवार को धमकी दी जाती रही और अब धमकियों का सिलसिला और बढ़ गया है । जिसे लेकर आे फिर एक बार घर आए है छुट्टी पर और फिर से इस विवाद का निपटारा करते हुए प्रताड़ित करने वालो पर करवाई की गुहार लगाई है ।

ये भी पढ़े…

होसिर कोरोना संक्रमित के परिवार के चार सदस्यों को किया गया क्वारेंटीन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें