• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

साहिबगंज: रूपा तिर्की आत्महत्या मामले में झारखंड सरकार सवालों में घिरी, जांच आयोग से मामले की जांच कराने की घोषणा की…..

1 min read

साहिबगंज: रूपा तिर्की आत्महत्या मामले में झारखंड सरकार सवालों में घिरी, जांच आयोग से मामले की जांच कराने की घोषणा की…..

 

NEWSTODAYJ_साहिबगंज महिला थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर रूपा तिर्की आत्महत्या प्रकरण पर विपक्ष के सवालों से घिरी झारखंड हेमंत सोरेन सरकार डैमेज कंट्रोल में जुट गई है. हेमंत सोरेन सरकार ने रूपा तिर्की की अप्राकृतिक मृत्यु के मामले की जांच एक सदस्यीय जांच आयोग से कराने की घोषणा की है. झारखंड उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त पूर्व मुख्य न्यायाधीश विनोद कुमार गुप्ता को जांच की जिम्मेदारी दी गई है.

यह भी पढ़ें..रांची: झारखंड में टीकाकरण की गति धीमी,पूरी आबादी को टीकाकरण करने में लग जाएंगे कई साल

राज्य सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि विनोद कुमार गुप्ता हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं. जांच आयोग को अपनी रिपोर्ट देने के लिए छह माह का समय दिया गया है. यह आयोग रूपा द्वारा कथित तौर पर आत्महत्या करने से संबंधित सभी विषयों को देखेगा.

 

 

3 महीने में रिपोर्ट देगी जांच आयोग

 

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस विषय में विशेष दखल देते हुए जांच आयोग का गठन करते हुए निष्पक्ष तरीके से इसे आगे बढ़ाने का निर्देश दिया है. इस संबंध में पूर्व में बोरिओ थाने में दर्ज केस के तहत जांच प्रक्रिया जारी रहेगी. बता दें कि 3 मई को रूपा तिर्की ने आत्महत्या की. इसके बाद से विपक्ष मुख्यमंत्री पर निशाना साध रहा था. राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने भी राज्य के डीजीपी को बुलाकर मामले की जानकारी ली थी.

 

पुलिस ने बताया है आत्महत्या

 

अब तक पुलिस की जांच में आत्महत्या के पीछे कोई बड़ी साजिश नजर नहीं आ रही है. साक्ष्य के आधार पर पुलिस का कहना है कि सब इंस्पेक्टर शिव कुमार कनौजिया से रूपा के नजदीकी रिश्ते थे. कनौजिया प्रताड़ित करता था. परेशान होकर रूपा से आत्महत्या कर ली. अब मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पूरे मामले की जांच के लिए आयोगग गठन को मंजूरी दे दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.