लॉकडाउन से दयनीय होती जा रही स्थिति को लेकर प्राइवेट शिक्षकों ने सब्जी,फल बेच कर किया विरोध

[URIS id=45547]

लॉकडाउन से दयनीय होती जा रही स्थिति को लेकर प्राइवेट शिक्षकों ने सब्जी,फल बेच कर किया विरोध

NEWSTODAYJ – बच्चों को शिक्षा देने वाले ठेले में फल, सब्जी लेकर निकल पड़े बेचनेl जी हाँ ये नजारा धनबाद के रंधीर वर्मा चौक का है जहाँ मंगलवार को चौराहे पर सब्जी और फल बेचते नजर आए। आपको बता दें कि एक-दो नहीं लगभग 15 ठेले रणधीर वर्मा चौक पर शिक्षकों के द्वारा लगाकर फल,सब्जी बेचा गयाl  दरअसल लंबे लॉकडाउन के कारण जिले के पांच हजार से अधिक प्राइवेट शिक्षकों एवं कोचिंग संचालकों की आॢथक स्थिति दयनीय हो चुकी है। वहीँ धनबाद जिला कोचिंग एसोसिएशन का कहना है कि इस स्थिति में मकान का किराया लगातार बढ़ता जा रहा है।

ईएमआइ, इंश्योरेंस भी देना है। आखिर हम लोग भी तो टैक्स भरते हैं तो अनदेखी क्यों की जा रही है। डीसी, डीईओ, मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री, एसडीएम सभी को अपनी समस्या से अवगत करा चुके हैं, सिर्फ आश्वासन मिला है। न तो हमें कोचिंग सेंटर को खोलने की इजाजत दी गई न हीं सरकार से कोई विशेष सहयोग मिला है।Lockdown के विरोध में प्राइवेट शिक्षकों ने बेची सब्जी, कहा - सुशांत सिंह राजपूत बनने पर मजबूर न करें Dhanbad Newsशिक्षकों ने कहा कि शराब की दुकान, कपड़े-जूते की दुकान, इलेक्ट्रॉनिक, हाट बाजार और कोर्ट खुल सकता है तो हमारे कोचिंग सेंटर क्यों नहीं। हमें जीने का अधिकार है। अब जीवन को आगे बढ़ाने के लिए कोई विकल्प बचा ही नहीं है। इसलिए विवश होकर फल-सब्जी का ठेला लगाना पड़ा। अब ठेला लगाकर सब्जी बेचेंगे और अपना गुजर-बसर करेंगे। मौके पर धनबाद जिला कोचिंग एसोसिएशन के रविंद्र विश्वकर्मा, रंजीत कुमार, सचिन कुमार और मुकेश कुमार मौजूद थे।

ये भी पढ़े…

साथ फेरे लेने के साथ जन्मों के बंधन में बंध जाएगी आज दीपिका

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here