• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

लातेहार के लोगों ने ली चैन की सांस ,1500 वायल कोरोना वैक्सीन की खेप पहुंची लातेहार

1 min read

लातेहार के लोगों ने ली चैन की सांस ,1500 वायल कोरोना वैक्सीन की खेप पहुंची लातेहार

लातेहार ज़िले में हाल के दिनों कोरोना की वैक्सीन लेने के लिए लोग टीकाकरण केंद्रों पर भारी संख्या में उमड़ पड़े थे। गुरुवार को भारत माता भवन में अबतक में सबसे अधिक 170 लोगों ने कोरोना का टीका लगाए जाने के बाद जिले में एक बार फिर से वैक्सीन का स्टाक खत्म होने के कगार पर पहुंच गया था।

हालाँकि शुक्रवार को 1500 वायल कोरोना वैक्सीन की खेप लातेहार पहुंचने पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी समेत सबों ने राहत की साँस ली और अब ज़िले में कोरोना वैक्सीन का पर्याप्त स्टॉक होने पर सबों को वैक्सीन मिलने की सम्भावना बढ़ गयी है।

सिविल सर्जन डॉ. संतोष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में 115 केंद्रों में वैक्सीनेशन चल रहा है। कोरोना संक्रमण एकाएक लगातार बढ़ने के बाद लोगों को कोविड-19 वैक्सीन लेने के लिए भीड़ उमड़ जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के पास अब वैक्सीन की कमी नही है।

उन्होंने बताया कि जिले में शुक्रवार को 1500 वायल पहुंच गया है। शनिवार को राज्य से 21 हजार वायल लातेहार आएगी।

उन्होंने कहा कि 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण लगवाने केन्द्रों में पहुंच रहे हैं। हालांकि केंद्रों में लगातार बढ़ रही भीड़ के मद्देनजर115 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। जिले को प्रतिदिन लगभग 19 सौ से 2 हजार वैक्सीन पड़ रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.