• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

रामायण से मानवों को सीखने की व अपने जीवन में उतारने की जरूरत है।

1 min read

गढ़वा।

रामायण से मानवों को सीखने की व अपने जीवन में उतारने की जरूरत है।

(संवाददाता-विवेक चौबे)
गढ़वा। रामायण है एक गुढ़ विद्या है। इसे पढ़ने, सुनने व देखने से कई चीजें मिलती हैं, जिसे मानवों को सीखने की जरूरत व अपने जीवन में उतारने की जरूरत है। कांडी प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत हरिगावां गांव में लंका दहन नामक ड्रामा खेला गया। मंच संचालक-शम्भू राम थे। उन्होंने पात्र परिचय कराते हुए बताया कि शिव कुमार चौबे उर्फ बबलु चौबे-राम,अनिल कुमार-लक्ष्मण,कमलेश कुमार-सीता,सुरेंद्र कुमार सिंह-हनुमान,राकेश कुमार-सुग्रीव,राम सूरत राम-जामवंत,पप्पू सिंह-बाली,रामाकांत तांतों-मारीच,अरुण तांतों-मेघनाथ,नंदू तातो-भीभीषन,मुकेश प्रजापति-अक्षय कुमार,संतोष तातो-मंदोदरी,संजय प्रजापति-रावण व राक्षस गण इंद्रजीत सेना के साथ-छोटू,राहुल,अफीम,सीपू,अजित,राहुल,गोलू,सोनू,राहुल सहित अन्य पात्रों ने उक्त लंका दहन नामक ड्रामा में भूमिका निभाया।ड्रामा का दृश्य तब आकर्षक था,जब राम की पत्नी-सीता को रावण हर कर लंका ले गया।उस वक्त राम ने जो विलाप किया उससे सभी दर्शकगण मुग्ध हो गए।सभी दर्शकों के आंख भर आए।किन्तु कलयुगी रावण ने सीता को साईकल से हरण कर ले गया,यह हास्यपद था।राम व सुग्रीव की मित्रता हुई।सुग्रीव को उन्होंने बाली से उसकी पत्नी को आजादी दिलाई।हनुमान जी को लंका जाने के क्रम में लंकनी ने उन्हें जाने से रोकना चाहा।उन्होंने उसे एक ही घुसा में मार गिराया।तब वे लंका पहुंचे,जहां अक्षय कुमार को उन्होंने मारा।मेघनाथ ब्रह्म फ़ांस में बांधकर रावण के दरबार में ले गया।पूंछ में आग लगा कर हनुमान जी को छोड़ा गया।तब हनुमान जी ने लंका में आग लगा दी।ड्रामा अति आकर्षक था।पूजा समिति के सचिव-रिंकू सिंह के द्वारा लगातार चार दिनों से प्रोग्राम किया गया।अन्य कई गांवों के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी।

NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published.