• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

रामगढ: गोला में हो रहा ताइवान का पीला तरबूज, लोग हैरान

1 min read

रामगढ: गोला में हो रहा ताइवान का पीला तरबूज, लोग हैरान

NEWSTODAYJ रामगढ – गोला प्रखण्ड के चोकड़बेड़ा गांव में किसान राजेंद्र बेदिया ने पहली बार पीला तरबूज की पैदावार कर सबको हैरान कर दिया हैं। जी हाँ आपने सही पढा आपने तो लाल तरबूज खूब खाया और देखा होगा। पर पीला तरबूज नही। पर गोला के चोकड़बेड़ा गांव में किसान राजेंद्र बेदिया के अथक प्रयास से पहली बार पीला तरबूज की खेती की गयी है। वह भी स्वदेशी नहीं, बल्कि ताइवान से ऑनलाइन मंगाये गये बीजा से खेती की गयी है। देखने में इसका रंग और आकार तरबूज का ही है। लेकिन इसे काटने से लाल के जगह पीला निकलता है। इस खेती के बारे में सुन कर लोग आश्चर्यचकित हो रहे है। किसान ने पीला तरबूज की खेती कर सभी को चौंका दिया है। यह तरबूज अनमोल हाइब्रिड किस्म का है। जिसका रंग बाहर से सामान्य तरबूज की तरह हरा है। लेकिन काटने पर अंदर में लाल के जगह पीला निकलता है। इसका स्वाद में मीठापन एवं खाने में अधिक रसीला है।

ये भी पढ़े…

प्राइमरी से लेकर प्लस टू तक के 22 हजार शिक्षकों की झारखण्ड में बहाली नई नियुक्ति प्रक्रिया नियमावली के तहत होगी

किसान ने बताया कि ताइवान से ऑनलाइन बिग हाट के माध्यम से आठ सौ रुपये में दस ग्राम अनमोल किस्म का बीज मंगाया था। मैंने अपने एक छोटे से खेत में प्रयोग के तौर पर प्लास्टिक मंचिंग एवं टपक सिंचाई पद्धति से खेती किया था। उन्होंने बताया कि खेत में 15 क्विंटल से अधिक पीला तरबूज की उपज हुई है। अगर दाम सही मिला तो कम से कम 22 हजार रुपये की आमदनी हो सकती है। जो लागत मूल्य से तीन गुणा होगा। इसका अधिक उपज देखकर लोग दंग रह गये।

ये भी पढ़े…

तूल पकड़ता जा रहा है बेलगड़िया धर्म परिवर्तन मामला- लॉकडाउन उल्लंघन मामले में विधायक सहित कई पर प्राथमिकी दर्ज   

वही ग्रमीण सुनील कुमार ने कहा की पीला तरबूज खाने में काफी स्वाद लगता हैं। तरबूज सचमुच बहुत ही अच्छा हैं। हमलोग चाहते हैं कि गांव में और तरबूज का पैदावार हो और रोजगार का साधन बढ़े। ताकि दो पैसा आय हो सके।
इधर मुखिया प्रतिनिधि कोलेश्वर बेदिया ने कहा कि पीला तरबुज बहुत ही स्वादिष्ट लगता हैं। राजेंद्र बेदिया को देखते हुए और भी किसान पीला तरबूज पैदावार करने का सोच रहा हैं । पीला तरबूज पैदावार करने के लिए उन्हें बधाई देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.