राज्यपाल के हाथों मिली शम्भुनाथ सिकरिया  को .डॉक्टर ऑफ़ लिट्रेचर .की मानद उपाधि

0
88

(पटना)

राज्यपाल के हाथों मिली शम्भुनाथ सिकरिया  को ” डॉक्टर ऑफ़ लिट्रेचर ”  की मानद उपाधि…..

पटना : इंटरनेशनालाईजेसन ऑफ़ हायर एजुकेशन विषय पर आधारित अंतराष्ट्रीय कांफ्रेंस सह सेमिनार में राष्ट्रीय व अंतराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त समाजसेवी व शिक्षाविद शम्भुनाथ सिकरिया  को महामहिम राज्यपाल के द्वारा ” डॉक्टर ऑफ़ लिट्रेचर ”  की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया । ऑल इंडिया एसोसिएशन ऑफ़ वाईस चांसलर्स एंड अकेडेमिसियंस, नई दिल्ली द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में उन्हें यह उपाधि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सिक्किम के महामहिम राज्यपाल गंगा प्रसाद, विशिस्ट अतिथि बिहार सरकार के मंत्री मंगल पांडेय, मंत्री  कृष्ण नंदन वर्मा, मंत्री  नरेंद्र नारायण यादव, पूर्व मंत्री अजित कुमार, जे. एस विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. हरि मोहन व कुलाधिपति डॉ. सुकेश कुमार  द्वारा संयुक्त रूप से प्रदान किया गयाशम्भुनाथ सिकरिया को यह सम्मान शिकोहाबाद, फिरोजाबाद, उत्तर प्रदेश के ” जे एस विश्विद्यालय ” की सर्वोच्च मानद उपाधि ‘ डॉक्टर ऑफ़ लिट्रेचर ‘ द्वारा सामाजिक, शिक्षा, उद्योग, कला एवं संस्कृत्ति में विशिस्ट कार्यों में अपना बहुमूल्य योगदान देने के लिए प्रदान किया गया । इनसे पहले ये सम्मान अब तक भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रासाद, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कृष्ण सिंह, अभिनेता सुनील दत्त, अभिनेता अमिताभ बच्चन जैसे नामी हस्तियों को ही मिला है। सम्मान प्राप्त करने के बाद अपने संबोधन में शम्भूनाथ सिकरिया ने कहा कि यह सम्मान पाकर मैं बहुत गौरवान्वित महसूस कर रहा हूँ। बिहार के पूर्वी चम्पारण, मोतिहारी के मूल निवासी शम्भुनाथ सिकरिया एक प्रतिष्ठित समाज सेवी हैं तथा उनकी औधोगिक, शैक्षिक एवं राजनीति क्षेत्र में विशिस्ट पहचान है । विदित हो की 1974 के सुप्रसिद्ध जे पी आंदोलन से प्रेरित होकर सिकरिया समाज सेवा और राजनिति के क्षेत्र में सक्रीय हुए और आज भी अनथक इन क्षेत्रों में निष्काम भाव से कर्मरत हैं । विभिन्न क्षेत्रों में उनकी सक्रियता, कुशलता, कार्यक्षमता एवं अमूल्य योगदान को देखते हुए उन्हें सामाजिक तथा सांस्कृतिक संस्थाओं ने पुरुस्कृत व सम्मानित किया है जिसमें भारत उद्योग अवार्ड, विजयश्री अवार्ड, भारत उद्योग रत्न अवार्ड, यसस्वी सम्मान, चम्पारण रत्न सम्मान विशेष रूप से शामिल है ।इसके साथ ही उन्हें बिहार सरकार के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, मंत्री व जिलाधिकारिओं द्वारा दर्जनों सम्मान प्राप्त है शम्भुनाथ सिकरिया ने अपने व्यस्त समय में भी कई पुस्तकों का लेखन किया हैसाथ ही उन्होंने विद्यालय भवनों का निर्माण, कॉलेज की स्थापना, प्रकिर्तिक आपदाओं में जन सेवा, गौ संरक्षण, सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन, अस्पतालों में आर्थिक सहयोग सहित कई सामाजिक कार्य कर देश का मान बढ़ाया है ।श्री सिकरिया अनेक औधोगिक, सामाजिक, सांस्कृतिक एवं राजनितिक संस्थाओं में अध्यक्षए उपाध्यक्ष एवं महामंत्री जैसे पदों पर आसीन हैं तथा रहे हैं । साथ ही चम्पारण चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स, राधाकृष्ण सेवा संसथान ट्रस्ट, चम्पारण सांस्कृतिक महोत्सव समिति,  चेलहा गौशाला मोतिहारी, सेव इंटरनेशनल से भी जुड़े हैं ।NEWSTODAYJHARKHAND.COM

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here