रांची : चार कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाएं के नवजात बच्चे बिलकुल स्वस्थ

रांची : चार कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाएं के नवजात बच्चे बिलकुल स्वस्थ

NEWS TODAY  कोरोना वायरस भले ही युवाओं और बुजुर्गों को अपना शिकार बना रहा हो, लेकिन नवजात के पास इसकी एक नहीं चलती. यहां तक कि कोरोना पॉजिटिव माताओं की कोख से जन्म लेने वाले शिशुओं में भी इसका संक्रमण नहीं देखा गया. रांची में ऐसे चार मामले सामने आए हैं. चारों नवजात स्वस्थ हैं. कोरोना इनका कुछ नहीं बिगाड़ पाया है.प्रेग्नेंसी पर क्या होता है कोरोना ...

रांची के रिम्स और सदर अस्पताल में अबतक चार कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाएं मां बनी हैं. प्रसव के बाद नवजातों को उनकी मां के पास ही रहने दिया गया. जहां फीडिंग भी कराई जा रही है. ख़ुशी की बात ये है कि चारों नवजात स्वस्थ हैं. कोरोना का इनपर कोई असर नहीं दिखा है.

वही रिम्स के डॉक्टरों का कहना है कि नवजातों को मां के दूध से ही इतनी सुरक्षा मिल जा रही है कि कोरोना इनका कुछ नहीं बिगाड़ पा रहा है. मां का दूध पीने से  शिशुओं में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो जाती है. रांची सदर अस्पताल की चिकित्सा पदाधिकारी डॉ रंजू कुमारी की माने तो कोरोना वायरस का ट्रांसमिशन पॉजिटिव माताओं से नवजात में इसलिए नहीं हो पाता, क्योंकि माताओं के स्तनपान से इनके शरीर में इम्यून पावर और एंटीबॉडी का विकास होता है. इनके बल पर नवजात कोरोना वायरस तक को भी पछाड़ दे रहे हैं.

ये भी पढ़े…

झारखण्ड लौट रहे मजदूरों के बस में डंपर के टक्कर मारने से 4 की मौत-हेमंत सोरेन ने जताया दुःख

बताते चले कि रांची के अनगड़ा की रहने वाली चारों कोरोना पॉजिटिव माताओं का रिम्स में इलाज जारी है. वैसे ऐहतियात के तौर पर राज्य सरकार गर्भवती महिलाओं की प्रसव से पहले कोरोना जांच करवा रही है. ताकि प्रसव के वक्त इन्हें कोई परेशानी न हो. इन चारों गर्भवती महिलाओं के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद रिम्स और रांची सदर अस्पताल के प्रसुति विभाग को कुछ दिनों के लिए बंद करना पड़ा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here