मोदी सरकार मिलावटखोरों के खिलाफ सख्त,सभी राज्य सरकारों को जारी किए गए निर्देश

[URIS id=45547]

मोदी सरकार मिलावटखोरों के खिलाफ सख्त,सभी राज्य सरकारों को जारी किए गए निर्देश

NEWSTODAYJमोदी सरकार ने लॉकडाउन के बाद मिलावटी खाद्य पदार्थों की बिक्री पर अंकुश लगाने के लिए सख्त एक्शन लेना शुरू कर दिया है. मिलावटखोरी की लगातार शिकायते केंद्र सरकार को मिल रहीं थी कि बाजार नियमों के विरुद्ध खाद्य पदार्थों की बिक्री हो रही है. खासकर खाद्य तेल की बिक्री हो रही है.

इस पर संज्ञान लेते हुए खाद्य एवं उपभोक्ता मंत्री राम विलास पासवान ने सभी राज्य सरकारों को निर्देश जारी कर सख्त कदम उठाने को कहा है. मंत्रालय के अपर सचिव ने सभी राज्य सरकारों को पत्र लिख कर खुले में खाद्य तेल की बिक्री पर तुरंत ही रोक लगाने और सख्त एक्शन उठाने के निर्देश दिए है. केंद्र सरकार ने कहा है कि राज्य सरकार तत्काल दुषित तेल की बिक्री पर रोक लगाएं, बिना पैकिंग के खाद्य तेल बेच रहे दुकानदारों पर तुरंत ही एक्शन लें.

पिछले कुछ दिनों से देश के कई हिस्सों से मिलावट की खबरें आनी शुरू हो गई थीं. हाल ही में दिल्ली एनसीआर में की गई एक जांच पड़ताल के दौरान पता चला है कि सरसों के तेल के 33 प्रतिशत सैंपल मिलावटी थे. इस तेल में चावल की भूसी का तेल भी मिलाया गया था.हाल ही में दिल्ली-एनसीआर में सरसों के तेल के 33 प्रतिशत सैंपलों में मिलावट पाई गई थी.

ये भी पढ़े….

मोटरसाइकिल से ले जा रहे दस किलो गांजा के साथ दो गिरफ्तार , एक डमी पिस्तौल भी बरामद…

भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण ने भी खाने-पीने की चीजों को लेकर एडवाइजरी जारी कर खरीदारी से पहले सावधानी बरतने को कहा था. दालें, अनाज, दूध, मसाले, घी से लेकर सब्जी और फल तक कोई भी खाद्य पदार्थ मिलावट से अछूता नहीं है.कोरोना महामारी के चलते इस समय हर आदमी को मजबूत प्रतिरोधक क्षमता की जरूरत है. ऐसे में अगर मिलावटी तेल या अन्य पदार्थ खाया जाता है तो इससे काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here