मुख्यमंत्री ने कहा- युवा शक्ति को रोजगार देकर आर्थिक रूप से सशक्त बनाना सरकार का लक्ष्य।

1 min read

रांची।

मुख्यमंत्री ने कहा- युवा शक्ति को रोजगार देकर आर्थिक रूप से सशक्त बनाना सरकार का लक्ष्य।

रांची। मुख्यमंत्री रघुवर दास से आज झारखंड मंत्रालय में उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव श्री शैलेश कुमार सिंह, झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसाइटी के सीईओ श्री अमर झा एवं उद्योग निदेशक श्री कृपानंद झा ने मुलाकात कर यह जानकारी दी कि झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसायटी द्वाराअयोजित 2018 में राष्ट्रीय युवा दिवस पर एक मंच से राज्य के 26,674 युवक-युवतियों को रोजगार उपलब्ध कराए जाने को लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड (Limca Book of Records) में दर्ज किया गया है। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि यह राज्यवासियों के लिए गर्व की बात है. यह सम्मान झारखंड को विकसित राज्यों की श्रेणी में अग्रणी स्थान प्राप्ति के लिए और प्रेरित करेगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि 2019 में राष्ट्रीय युवा दिवस पर 1,06,619 युवाओं को रोजगार दिया गया। अब तक 2 वर्षों में विभिन्न विभागों के द्वारा कौशल विकास के माध्यम से पिछले 1,90,000 लोगों को रोजगार दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा टीम झारखंड दिन प्रतिदिन नित नए विश्व कीर्तिमान बना रहा है. यह सरकार की दृढ़ इच्छाशक्ति और प्रतिबद्धता के साथ किए जा रहे कार्यों का ही परिणाम है. मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि युवा शक्ति को रोजगार देकर आर्थिक रूप से सशक्त बनाना लक्ष्य है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से बेरोजगार युवक-युवतियों को हुनरमंद बनाकर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने प्रतिबद्ध प्रयास किया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि मोमेंटम झारखंड के तहत राज्य में उद्योग स्थापित हो रहे हैं. राज्य में जितने उद्योग बढ़ते जाएंगे साथ ही साथ रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे. आने वाले कुछ वर्षों में राज्य में हो रहे पलायन को पूर्ण रूप से रोकना सरकार का लक्ष्य है. उन्होंने कहा कि युवा शक्ति को विकसित करके ही समृद्ध और नए झारखंड की कल्पना पूरी की जा सकेगी. मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने उच्च एवं तकनीकी शिक्षा के प्रधान सचिव, उद्योग निदेशक, झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसायटी के सीईओ सहित अन्य सभी कर्मियों को बधाई दी। ज्ञात हो कि उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग के अंतर्गत झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसायटी द्वारा 12 जनवरी 2018 को एक मंच से झारखंड के 26,674 युवक-युवतियों को रोजगार उपलब्ध कराया गया था. यह लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड में (Limca Book of Records) दर्ज हुआ है. 12 जनवरी 2018 को रांची के खेल गांव स्थित टाना भगत स्टेडियम के एक मंच से 26,674 प्लेसमेंट राज्य के बच्चों को दिया गया था. इतनी बड़ी संख्या में रोजगार उपलब्ध कराने के लिए झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसायटी द्वारा राज्य में कुल 38 प्लेसमेंट सेंटर स्थापित किए गए थे वहीं 221 प्लेसमेंट ड्राइव चलाए गए थे. इस प्लेसमेंट महाकुंभ में 56,423 युवक युवतियां नौकरी के लिए आवेदन किया था. विभिन्न कंपनियों द्वारा राज्य के युवक-युवतियों को दिए गए जॉब ऑफर्स का डिजिटलाइज्ड रिकॉर्ड झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसाइटी के हुनर (HUNAR) पोर्टल पर देखा जा सकता है.

NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Newstoday Jharkhand | Developed By by Spydiweb.