महिलाएं हो रही है अफवाहों का शिकार, कोरोना से मुक्ति पाने के लिए कर रहीं हैं छठ पूजा…

NEWSTODAYJ:गढ़वा । गढ़वा जिला के मझिआंव प्रखण्ड अंतर्गत बोदरा पंचायत के ग्राम बिच्छी में गुरुवार को महिला श्रद्धालुओं की अनोखा पहल देखने को मिला। कोरोना मुक्ति के नाम पर फैलाया गया अफवाह का सोशल डिस्टेंसिंग का धज्जियां उड़ाते हुए महिलाओं ने छठ व्रत के नाम पर 5000 रुपए सरकार से पाने की जुगत की अफवाह में पड़कर सैकड़ों महिलाओं ने अपने क्षेत्र के बांकी नदी में छठ व्रत करने पहुंच गई। दिलचस्प बात यह है कि इनके पूजा के थाली में आधार कार्ड व पासबुक रखकर भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया गया। हालांकि गांव के भोली-भाली महिला को पता भी नहीं है कि हकीकत क्या है, लेकिन आस्था मानकर देश के प्रधानमंत्री के नाम गीत प्रस्तुत कर छठ व्रत किया।

यह भी पढ़े।

प्यार के लिए छोड़ दी नक्सली का रास्ता-एक दुसरे का दामन थामे लौट आए मुख्यधारा में कुख्यात नक्सली

जहां वैश्विक महामारी बंदी में लोगों को पेट चलाना मुश्किल हुआ है, वहीं गांव के महिलाओं ने बाजारों से नए साड़ियां मंगाकर पूरे फल-फलहारी के साथ छठ व्रत किया। इस अफवाह का शिकार गांव की कम पढ़ी-लिखी महिला तो हो ही रहे हैं, लेकिन श्रद्धालु महिला से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि एक दूसरे की देखा-देखी हम लोग छठ व्रत कर रहे हैं जो गांव में हल्ला है। क्योंकि बीते मंगलवार मेराल थाना क्षेत्र के कुछ गांव में ऐसा देखने को मिला था।छठ व्रत करने वाले महिलाओं से बातचीत करने पर उन्होंने बताया कि ऐसा करने पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5000 रुपए खाते में भेजेंगे। इसीलिए हमलोग अपना आधार व पासबुक के फोटो कॉपी थाली में रखकर छठ व्रत कर रहे हैं। महिलाओं का कहना है कि हमलोग देश के रक्षा अपने-अपने बच्चों की रक्षा के लिए छठ व्रत किये हैं।इसकी सूचना थाना प्रभारी योगेंद्र कुमार, बीडीओ अमरेंद्र डांग, सिओ राकेश शहाय को दिया गया। सूचना मिलते ही तीनो प्रखण्ड के अधिकारियों ने छठ स्थल पर पहुंचकर सभी छठ व्रतियों को अफवाह में न पड़ने को कहा और सभी को समझा कर घर भेज दिया। उन्होंने कहा कि जो भी इस तरह का अफवाह फैलाया हैं ऐसे लोगों को पता कर सख़्त कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *