• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

महाराष्ट्र:लूडो किस्मत का खेल घोषित हो , कौशल का नही :हाईकोर्ट में याचिका दायर…

1 min read

महाराष्ट्र:लूडो किस्मत का खेल घोषित हो , कौशल का नही :हाईकोर्ट में याचिका दायर…

 

NEWSTODAYJ_महाराष्ट्र बॉम्बे हाईकोर्ट में लोकप्रिय बोर्ड गेम लूडो को लेकर एक याचिका दायर की गई है। याचिका में मांग की गई है कि इस खेल को कौशल के खेल के बजाए किस्मत का खेल घोषित किया जाए। महाराष्ट्र नव निर्माण सेना के केशव मुले ने यह याचिका दी है।

 

उन्होंने कहा है कि इस खेल में लोग दांव पर पैसे लगा रहे हैं। याचिका में मोबाइल एप से जुड़े लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है। मामले पर सुनवाई 22 जून को होगी। हाईकोर्ट ने इस मामले में राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

यह भी पढ़ें…महाराष्ट्र:बदलापुर MIDC में फैक्ट्री से गैस का रिसाव ,मौजूद व्यक्तियों की तबियत खराब

याचिका के मुताबिक, लूडो का खेल उसका पासा गिरने के बाद उस पर आने वाले अंकों पर निर्भर करता है। इस तरह से देखा जाए तो लूडो कौशल नहीं किस्मत का खेल है। इस खेल में लोग जब कुछ दांव पर लगाते हैं तो यह जुआ का रूप ले लेता है।

 

याचिका में कहा गया है कि लूडो एप पर लोग पैसा लगा रहे हैं। लोग पांच-पांच रुपये का दांव लगाते हैं, जिसके बाद विजेता के खाते में 17 रुपये पहुंचते हैं, जबकि तीन रुपये एप के हिस्से में जाते हैं।

 

याचिकाकर्ता के वकील निखिल मेंगड़े ने कहा, लूडो के नाम पर जुआ सामाजिक बुराई का रूप ले रहा है। इससे पहले याचिका मजिस्ट्रेट कोर्ट में पहुंची थी। वहां इसे कौशल का खेल मानते हुए एफआईआर दर्ज करने से मना कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.