• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

बीडीओ मैडम ठंड अपने तेवर दिखा रही है, अलाव की कराएं व्यवस्था

1 min read

बीडीओ मैडम ठंड अपने तेवर दिखा रही है, अलाव की कराएं व्यवस्था

NEWS TODAY बोकारो :: गोमिया में कड़ाके की ठंड और लगातार बढ़ रही कनकनी ने जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है। अब तक ठंड से बचाव की प्रशासनिक तैयारियां मुकम्मल नहीं हो सकी हैं। गोमिया बैंक मोड़, धुर्वा मोड़, गोमिया रेलवे स्टेशन, गोमिया पोस्ट ऑफिस मोड़, स्वांग, हजारी जैसे सार्वजनिक स्थलों पर न अलाव जलाए गए हैं न ही जरूरतमंदों को कंबल वितरित किया जा सका है।

पंचायत प्रतिनिधि भी दो चार कंबल कैमरे के सामने बांटकर अखबारों में दर्जनों कंबल वितरण की सुर्खियां बटोरने में लगे हैं। गरीब, असहाय, मजदूर और राहगीर चौक चौराहे व स्टेशन पर कागज प्लास्टिक जलाकर ठंड दूर करने की जद्दोजहद में लगे हैं। यहां उनके लिए रैन बसेरे नौ मन घी के सामान हैं, जो ना कभी होगा ना राधा नाचेगी।

पिछले एक सप्ताह से ठंड ने जोर पकड़ लिया है। गलन भरी सर्दी से पूरा जनजीवन अस्त-व्यस्त है। प्रशासनिक स्तर पर अब तक अलाव जलाने की व्यवस्था नहीं की गई है, न ही गरीबों को पर्याप्त कंबल बांटे जा रहे हैं। और तो और अपने सीएसआर मद का 2 फीसदी नहीं 5 फीसदी खर्च करने की ढोंग करने वाली आईईएल निजी कंपनी किसी से तेल लगवाने की आस में बैठी है। जो बिना तेल सोंटवाए अलाव की व्यवस्था नहीं करती, सीएसआर खर्च करेगी सोंचना ही हास्यास्पद है।

गरीबों की सुविधा के लिए रैन बसेरा आदि का भी कुछ पता नहीं है। उक्त क्षेत्र में भी रात को भ्रमण करने पर एक भी चौराहे व सार्वजनिक स्थलों पर अलाव जलते नहीं पाया गया। इसके कारण आमजन के अलावे राहगीर भी ठंड के कारण कपकंपाते दिखाई पड़ते है, तो रिक्शा वाले व गरीब भी ठंड के कारण कहीं कांपते नजर आते है। वहीं प्रखंड प्रशासन की तरफ से दस दिन पूर्व ही अलाव की मौखिक प्रक्रिया करा ली गई थी लेकिन अभी तक उक्त इलाकों में अलाव नहीं जला।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें