• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

बीटेक छात्रा को मिला इंसाफ;दोषी राहुल को मिली फांसी की सजा-रांची दुष्कर्म मामला

1 min read

बीटेक छात्रा को मिला इंसाफ;दोषी राहुल को मिली फांसी की सजा-रांची दुष्कर्म मामला

NEWS TODAY रांची :: सीबीआई कि कोर्ट ने बीटेक छात्रा की दुष्कर्म का दोषी राहुल को लेकर बड़ी सजा सुनाई है। सूत्रों के मुताबिक दुष्कर्म के बाद जलाकर हत्या करने के मामले में सीबीआई कोर्ट ने राहुल को आज फांसी की सजा सुनाई है। जानकारी के अनुसार बूटी बस्ती में 15 दिसंबर 2016 की रात बीटेक छात्रा के साथ हुए दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या कर दी गई थी। आरोपी ने छात्रा के चेहरे पर मोबिल ऑयल डालकर आग भी लगा दी थी। पुलिस और सीआईडी की जांच में हत्याकांड का खुलासा नहीं होने पर 28 मार्च 2018 को इस मामले में सीबीआई ने प्राथमिकी दर्ज की थी। आरोपी राहुल को 22 जून 2019 को रांची के सीबीआई कोर्ट में पेश किया था। रिमांड पर लेकर पूछताछ में घटना की परत खुलती चली गई।वहीं इस मामले में सीबीआई के स्पेशल जज एके मिश्र की कोर्ट ने राहुल को शुक्रवार को इस मामले में दोषी  माना। बता दें कि, स्पेशल जज ने इस मामले में सिर्फ 16 कार्य दिवस में 30 गवाह के बयान दर्ज कर सुनवाई की प्रक्रिया पूरी की। वहीं आरोपी की ओर से बचाव में कोई गवाह पेश नहीं किया गया।

गौरतलब है कि, आरोपी राहुल सितंबर 2016 में नालंदा से भागकर बूटी बस्ती पहुंचा था। उसने पीड़िता के घर के पास स्थित दुर्गा मंदिर परिसर में एक कमरा रहने के लिए लिया। राहुल रात में ऑटो चलाता था। राहुल बूटी बस्ती में रहने के दौरान वहां रहने वाली लड़कियों पर नजर रखता था। घटना वाले दिन राहुल ने मृतक छात्रा को अकेला पाया। उसके घर में वह उस समय घुसा जब वह बाथरूम जा रही थी। बाथरूम का ताला खुला हुआ था और बाहर दीवार पर टांग कर रखा हुआ था। घटना को अंजाम देने से पहले राहुल ने रात 10 बजे ही अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर दिया था, जो अगले दिन 10 बजे तक बंद था।घटनानुसार CBI को पता चला कि, 2-3 माह पूर्व दुर्गा मंदिर के कमरे में राहुल नाम का व्यक्ति रुका था, जो इस घटना के बाद से लापता है। टीम मंदिर के एक युवक बंटी से मिला, जिसने राहुल के बारे में जानकारी दी। फिर टीम राहुल के गांव धूलगांव पहुंची। आरोपी के माता-पिता के खून के नमूने लेकर जांच के लिए भेज दिया।

आरोपी की मां के खून का डीएनए रिपोर्ट और मृतका के शरीर से उठाए गए स्वाब और नाखून के भीतरी अंश का डीएनए रिपोर्ट आपस में मिल गए। इसके बाद सीबीआई ने उसे लखनऊ के जेल से हिरासत में ले लिया। जांच में पता चला कि वह दुष्कर्म का आदतन अपराधी है। उस पर पटना में दुष्कर्म के कई मामले दर्ज हैं। वहीं लखनऊ में भी दुष्कर्म मामले में ही जेल में था। इसके बाद टीम वारंट पर उसे रांची ले आई। तब से वह जेल में है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें