• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

बिल्डिंग से मिले 300 कोरोना संदिग्ध लोगों को भेजा गया अस्पताल

1 min read

बिल्डिंग से मिले 300 कोरोना संदिग्ध लोगों को भेजा गया अस्पताल

NEWS TODAY – दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन इलाके में उस वक्त सनसनी फ़ैल गई जब पास के एक बिल्डिंग से करीब 300 कोरोना संदिग्धों को पाया गयाl बताते चले कि निजामुद्दीन औलिया दरगाह से महज 200 मीटर की दूरी पर और निजामुद्दीन पुलिस स्टेशन के ठीक पीछे सात मंजिला इमारत से पुलिस और प्रशासन ने इन्हें निकाल कर अलग-अलग अस्पतालों में भेजा हैl

ये भी पढ़े- रिलायंस इंडस्ट्री ने कोरोना में सहयोग के लिए खोला खजाना-500 करोड़ के साथ 50 लाख को खाना भी मुहैया कराएगी

निजामुद्दीन मरकज के नाम से मशहूर ये बहुमंजिली इमारत बंगलेवाली मस्जिद की हैl इनमें सऊदी अरब, इंडोनेशिया, बांग्लादेश, श्रीलंका, अफगानिस्तान और कई दूसरे देश के लोग भी शामिल हैं. यहां देवबंदी समुदाय के लोग जमात के लिए आते हैंl वहीँ अंडमान निकोबार में जब एक व्यक्ति को कोरोना पाजिटिव पाया गया तब उसकी ट्रैवल हिस्ट्री से पता चला कि वो जमात के लिए हजरत निजामुद्दीन आया था, जिसके बाद दिल्ली में प्रशासनिक तौर पर खलबली मचीl पुलिस ने जब बिल्डिंग की जांच की तो उस समय एक हजार से अधिक लोग बिल्डिंग में मौजूद थेlCoronavirus In Delhi: 17 people from Delhi who returned from ...

हालांकि पुलिस ने वहां मौजूद ज्यादातर दक्षिण भारतीयों को जनता कर्फ्यू के अगले दिन एयरपोर्ट से रवाना भी करवा दिया. कल से आज तक बिल्डिंग में मौजूद लोगों की हेल्थ स्क्रीनिंग के बाद करीब 300 लोगों को संदिग्ध मानकर उन्हें अलग-अलग अस्पतालों में भेजा गया हैl जमात में शामिल लोगों में से कुल 11 लोगों को कोरोना पाजिटिव पाया गया है, जिनमें से श्रीनगर के एक व्यक्ति की मौत भी हो चुकी है. पुलिस और प्रशासन के लिए सबसे बड़ी चुनौती ये है कि जमात में शामिल लोगों में से काफी संख्या में लोग देश के अलग-अलग हिस्से में जा चुके हैं, जिससे संक्रमण फैलने का खतरा बहुत बढ़ गया हैl

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.