PROBLEM-बलियापुर के आमझर में कोरोना शवों के लिए बनाए जा रहे श्मशान के खिलाफ आन्दोलन तेज करने का निर्णय

बलियापुर के आमझर में कोरोना शवों के लिए बनाए जा रहे श्मशान के खिलाफ आन्दोलन तेज करने का निर्णय

  • पूर्व विधायक आनंद महतो ने आमझर मामले में ग्रामीणों की मांग को जायज बताया
  • प्रशासन द्वारा बनाए जा रहे श्मशान के बगल ही आदिवासी बहुल उभीडीह बस्ती है,बगल में ही गांव का विद्यालय है

NEWSTODAYJ– आमझर में कोरोना मृतकों के शवों की अंत्येष्ठि के लिए श्मशान बनाऐ जाने के निर्णय के खिलाफ एकजुट होकर आंदोलन तेज करने का निर्णय लिया गया। पूर्व विधायक आनंद महतो ने आमझर मामले में ग्रामीणों की मांग को जायज बताया। कहा कि जिला प्रशासन को इस मसले पर ग्रामीणों की राय जरूर लेनी चाहिए थी। प्रशासन द्वारा बनाए जा रहे श्मशान के बगल ही आदिवासी बहुल उभीडीह बस्ती है।

ये भी पढ़े-पुलिस सुरक्षा के बीच देर रात भी बलियापुर के आमझर में कोरोना वायरस से मरनेवाले शवों की अंत्येष्टि की गई

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

बगल में ही गांव का विद्यालय है। अगल-बगल की जमीन पर खेती होती है। झामुमो नेता युद्धेश्वर सिंह, कांग्रेस नेता भूतनाथ देव, भाजपा नेता संतलाल परामाणिक व मासस प्रखंड अध्यक्ष गणेश महतो ने ग्रामीणों के पक्ष में आंदोलन को समर्थन देने की बातें कही। उक्त बातें कुसमाटांड़ में आयोजित पूर्व सांसद एके राय की पुण्यतिथि कार्यक्रम के समापन के बाद आमझर मुखिया संतोष रवानी की अध्यक्षता में विभिन्न राजनीतिक दल के कार्यकर्ताओं की बैठक हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here