बड़े खतरे की घंटी, पटना AIIMS मे कोरोना पॉजिटिव की नहीं है कोई ट्रैवल हिस्ट्री

बड़े खतरे की घंटी, पटना AIIMS मे कोरोना पॉजिटिव की नहीं है कोई ट्रैवल हिस्ट्री

NEWS TODAY-पटना AIIMS मे बुधवार को एक कोरोना पॉजिटिव मरीज पाया गया है. इस मरीज की उम्र 35 वर्ष है और यह वैशाली के राघोपुर का रहने वाला है. पर चिंता की बात यह है की इस मरीज की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है. और इसे खुद नहीं मालूम है कि कोरोना वायरस कैसे और किसके संपर्क में आने से हुआ है.

ये भी पढ़े- लॉकडाउन 2- पुलिस प्रशासन की बढ़ी सख्ती

Capture 2021-07-28 22.36.12
Capture 2021-08-17 12.13.14 (1)
Capture 2021-08-06 12.06.41
Capture 2021-08-19 12.34.03
Capture 2021-07-29 11.29.19
Capture 2021-08-17 14.20.15 (1)
Capture 2021-08-10 13.15.36
Capture 2021-08-05 11.23.53
Capture 2021-09-09 09.03.26
Capture 2021-09-16 12.44.06

इस मरीज के मिलने से प्रशासन की परेशानी बढ़ गई है क्योंकि इसके कोरोना संपर्क का कोई पता नहीं चल पा रहा है. सूत्रों के अनुसार यह सर्दी खांसी और बुखार होने के बाद जांच के लिए पटना एम्स में मरीज पहुंचा था. एम्स अस्पताल में पहले इसकी स्क्रीनिंग की गई उसके बाद इसे अलग किया गया.

गौरतलब है कि इस मरीज का इलाज पटना के दो निजी अस्पतालों में किया गया था. इसका पहले ब्रेन ट्यूमर का इलाज किया जा रहा था और एक दिन पहले सांस लेने में ज्यादा तकलीफ होने पर पटना AIIMS में एडमिट किया गया था. इस मरीज के साथ उसकी बहन, भाई और पत्नी थी, जैसे एम्स प्रशासन ने क्वारेंटाइन कर दिया है.मरीज के परिजनों से पूछताछ मे पता चला की यह बिहार से बाहर गया ही नहीं, सिर्फ इलाज के लिए पटना आया था. इसके अलावा यह युवक गांव में ही रहता है और कहीं गया भी नहीं है.

बता दें कि वैशाली के इस कोरोना पॉजिटिव मरीज की पटना के राजेन्द्र नगर स्थित नर्सिंग होम में भी इलाज हुआ था. इसको देखते हुए जिला प्रशासन ने नर्सिंग होम को देर रात सील कर दिया और वहां के सभी कर्मियों को क्वारेंटाइन कर दिया गया. जानकारी के अनुसार इससे लगा तीन किलोमीटर का इलाका भी पूरी तरह सील कर दिया जाएगा और पूरे इलाके को सेनिटाइज किया जाएगा.  वहीं आसपास रहने वाले सभी लोगों की भी स्वास्थ्य जांच की जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here