• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

जन्म के साथ बच्चे का बनेगा आधार कार्ड,UIDAI जल्‍द नई सुविधा कराएगा उपलब्‍ध…

1 min read

NEWSTODAYJ_नई दिल्ली : आधार कार्ड के संबंध में सबके लिए जरूरी खबर। UIDAI जल्‍द नई सुविधा उपलब्‍ध कराएगा। UIDAI के CEO सौरभ गर्ग ने बताया कि UIDAI ऐसी योजना बना रही है, जिससे जन्म लेने के साथ ही उस बच्चे का आधार कार्ड बन जाएगा। अब आधार बनवाने के लिए बच्चे के माता-पिता को परेशान होने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

 

बर्थ रजिस्‍ट्रार के साथ चल रही बातचीत

सौरभ गर्ग के मुताबिक , ‘यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया इसके लिए नया प्लान तैयार कर रही है। अब जन्म लेने वाले बच्चों को आधार कार्ड मुहैया कराने के लिए अस्पतालों को रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा दी जाएगी।’

 

इस योजना को शुरू करने के लिए UIDAI, बर्थ रजिस्ट्रार के साथ मिलकर काम करेगा और इसके लिए बातचीत की जा रही है।

यह भी पढ़े….PM INAUGURATES RS 17500 PROJECT:पीएम मोदी हजारों करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे,रखेंगे एम्स की आधारशिला

सौरभ ने कहा, ‘भारत में रोजाना करीब 2.5 करोड़ बच्चों का जन्म होता है। ऐसे में UIDAI की योजना है कि अस्पताल में जन्म लेने वाले बच्चों की फोटो खींचकर साथ ही साथ आधार कार्ड जारी कर दिया जाएगा।’ दरअसल, अभी 5 साल से कम उम्र के बच्चों के आधार के लिए बायोमेट्रिक्स की जरूरत नहीं पड़ती है, लेकिन जब उनकी उम्र 5 साल से ज्यादा हो जाती है तो उनका बायोमेट्रिक्स कराना अनिवार्य हो जाता है।

 

 

क्षेत्रीय भाषा में भी बनेगा आधार

सौरभ के अनुसार, ‘अब जल्द ही भारत में क्षेत्रीय भाषाओं में भी आधार कार्ड जारी किए जाएंगे।’ अभी देश में आधार कार्ड पर हिंदी और अंग्रेजी में ही जानकारियां दी गई होती हैं, जल्दी ही आधार कार्ड पर पंजाबी, तमिल, तेलुगु, मलयालम, कन्नड़, उड़िया, मराठी जैसी त

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ट्रेंडिंग खबरें