• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

बंद कमरे में मिले पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी और हेमंत सोरेन, आधा घंटे तक चली बातचीत। पढ़ें पूरी खबर…….

1 min read

धनबाद।

बंद कमरे में मिले पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी और हेमंत सोरेन, आधा घंटे तक चली बातचीत। पढ़ें पूरी खबर…….

धनबाद। राष्ट्रीय खेल घोटाले में पूर्व मंत्री बंधु तिर्की की गिरफ्तारी के बाद झाविमो प्रमुख पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी और झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन हैरान-परेशान हैं। बताते चलें कि झाविमो महासचिव पूर्व मंत्री बंधु तिर्की की गिरफ्तारी के बाद झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी तथा झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज सुबह धनबाद के सर्किट हाउस के बंद कमरे मिले और लगभग आधा घंटे तक बातचीत की। वहीं कमरे से बाहर निकलने के बाद बाबूलाल मरांडी ने कहा कि भाजपा सत्ता के बल पर विपक्ष को दबाना चाहती है।
बताते चलें कि झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन बदलाव यात्रा पर हैं। इसी क्रम में वह बुधवार की रात धनबाद सर्किट हाउस में ठहरे थे। जबकि झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी धनबाद कोर्ट में एक मामले में पेश होने के लिए बुधवार की रात सर्किट हाउस पहुंचे। जब बाबूलाल और हेमंत को गुरुवार सुबह यह जानकारी मिली कि दोनों एक ही सर्किट हाउस में ठहरे हुए तो मिलने से नहीं रोक पाए। हेमंत अपने कमरे से निकल कर बाबूलाल के कमरे में पहुंचे। दोनों ने एक-दूसरे के साथ चाय पी। फिर समर्थकों को बाहर निकलने का इशारा किया। इसके बाद बंद कमरे के अंदर दोनों ने अकेले गूफ्तगू की। जब कमरे से बाहर निकलने पर मीडिया के सवालों से सामना हुआ तो हेमंत ने कहा-यह शिष्टाचार मुलाकात थी।
उन्होंने कहा कि बिना वारंट के बंधु तिर्की की गिरफ्तारी रघुवर सरकार द्वारा विपक्ष में भय पैदा करने के लिए किया जा रहा कार्य है। जबकि उनकी गिरफ्तारी गलत तरीके से हुई है। वहीं झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने मुस्कुराते हुए कहा कि जब दो राजनीतिक लोग मिलते हैं तो राजनीति की बातें होती ही है। राज्य के वर्तमान हालात पर चर्चा हुई। उन्होंने झाविमो महासचिव बंधु तिर्की की गिरफ्तारी का उदाहरण देते हुए कहा कि भाजपा सरकार सत्ता के बल पर विपक्ष को दबाना चाहती है। बंधु तिर्की कोई चोर या भगोड़ा नहीं था। उन्होंने कहा कि इस गिरफ्तारी के माध्यम से सरकार एक भय का माहौल बना रही है। इस भय के माहौल से निपटने की कोशिश सभी दलों को मिलकर करनी होगी।

NEWSTODAYJHARKHAND.COM

Leave a Reply

Your email address will not be published.