पैदल चल कर बिहार जा रहे मजदूर को बिना कोरोना जांच के पुलिस ने दिया भगा:पार्षद अनुरजन सिंह ने पुलिस पर लगाया आरोप

[URIS id=45547]

पैदल चल कर बिहार जा रहे मजदूर को बिना कोरोना जांच के पुलिस ने दिया भगा:पार्षद अनुरजन सिंह ने पुलिस पर लगाया आरोप…

NEWSTODAY:धनबाद:रांची से पैदल चलकर बिहार जा रहे प्रवासियों को जोड़ापोखर पुलिस द्वारा भगा देने का मामला तूल पकड़ा। इस मामले में स्थानीय लोगों में आक्रोश व्याप्त है और वार्ड पार्षद अनुरजन सिंह ने पुलिस पर आरोप लगाया है।रांची के चुटिया से दो दर्जन लोग पैदल चलकर शनिवार की रात करीब 9 बजे जोडापोखर थाना क्षेत्र पहुंचे। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना जोड़ापोखर थाना को दी

ये भी पढ़े।

12 मई से नई दिल्ली से कुछ ख़ास जगहों के लिए चलेगी 15 जोड़ी ट्रेनें

मौकेपर पहुंची पुलिस ने इन लोगों की जांच कराने के बजाय इन्हें अपने थाना क्षेत्र से भागा दिया। यहां से भगाये जाने के बाद वे लोग झरिया के बोर्रागढ़ थाना अंतर्गत भूतगढिया पहुंंचे थे। स्थानीय लोगों की सूचना पर बोर्रागढ़ थाना प्रभारी सुशील कुमार सिंह ने दो प्राइवेट गाड़ी कर पुलिस स्कॉट के साथ शनिवार की रात ही स्वास्थ्य जांच के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।स्थानीय लोगों में आक्रोश बताया है. कि शनिवार की रात रांची से पैदल चलकर जब दो दर्जन लोग जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के जामाडोबा चार नंबर मोड़ के पास पहुंंचे तो वहांं के लोगों ने भीड़ देखकर उन लोगों से पूछताछ की। पूछताछ के दौरान उन लोगों ने बताया किरांची से पैदल चलकर बिहार के जमुई जा रहे हैं। स्थानीय लोगों ने यह जानकारी जोड़ापोखर पुलिस को दी. जानकारी मिलते ही जोड़ापोखर पुलिस दल बल के साथ मौके पर पहुंंची और सभी लोगों को खदेड़कर अपने थाना क्षेत्र से दूसरे थाना क्षेत्र में भेज दिया. पुलिस की इस लापरवाही से स्थानीय लोगों मे काफी आक्रोश है.वार्ड पार्षद नेपुलिसिया कार्यशैली पर उठाया सवाल वार्ड संख्या 41 पार्षद अनुरजन कुमार सिंह ने पुलिस की कार्यशैली पर उठाया सवाल इस संबंध में स्थानीय पार्षद अनुरंजन ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहा कि यह काफी निंदनीय घटना है।। जब स्थानीय लोगों ने सुरक्षा की दृष्टि से मामले की जानकारी पास के थाने को दी तो पुलिस का यह कर्तव्य बनता था कि वो इनलोगों से पूछताछ कर उनकी जांच स्वास्थ्य विभाग से करवाये. लेकिन पुलिस ने यह कार्रवाई न कर अपने थाना क्षेत्र से सभी को भगाकर दूसरे थाना क्षेत्र में भेज दिया। पार्षद ने यह भी कहा कि पुलिस की इस लापरवाही से कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।
बोर्रागढ़ पुलिस ने स्वास्थ्य जांच के लिए भेजा अस्पताल
वहीं बोर्रागढ़ स्थित भूतगढ़िया के स्थानीय लोगों ने कहा कि रांची से धनबाद के बोर्रागढ़ थाना क्षेत्र में आये दर्जनों लोगों को बोर्रागढ़ पुलिस ने प्राइवेट गाड़ी से स्वास्थ्य जांच कराने के लिए भेज दिया है। उन्होंने कहा कि बोर्रागढ़ पुलिस ने यह सराहनीय कार्य किया है। वहीं बोर्रागढ़ के स्थानीय लोगों ने पैदल जा रहे लोगों को नाश्ता-पानी भर कर दिया और अस्पताल जांच के लिए भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here