पुलिस सुरक्षा के बीच देर रात भी बलियापुर के आमझर में कोरोना वायरस से मरनेवाले शवों की अंत्येष्टि की गई

FILE PHOTO
[URIS id=45547]
न्यूज़ सुने

पुलिस सुरक्षा के बीच देर रात भी बलियापुर के आमझर में कोरोना वायरस से मरनेवाले शवों की अंत्येष्टि की गई

  • अस्पताल में परिजनों से शवों की पहचान करा कर आमझर में अंतिम संस्कार किया जा रहा है
  • कोरोना मृतकों के शवों की अंत्येष्टि के लिए श्मशान, कब्रिस्तान व शेड निर्माण को अंतिम रूप देने का काम जारी

NEWSTODAYJ– बलियापुर के आमझर कोरोना मरीजों के अंत्येष्टि स्थल बनाए जाने को लेकर ग्रामीण और पुलिस के बीच तीन दिनों से रस्साकशी के बीच पुलिस सुरक्षा के बीच मंगलवार की देर रात भी बलियापुर के आमझर में कोरोना वायरस से मरनेवाले शवों की अंत्येष्टि की गई। सोमवार की रात को भी दो शवों का अंतिम संस्कार किया गया था। अस्पताल में परिजनों से शवों की पहचान करा कर आमझर में अंतिम संस्कार किया जा रहा है।

ये भी पढ़े- CORONA UPDATE-झारखण्ड में 373 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के साथ आंकड़ा 6194

बतादें कि मंगलवार की सुबह जब शवों के अंतिम संस्कार शुरू होने की जानकारी ग्रामीणों को मिली तो वे आक्रोशित हो गए। बलियापुर का आमझर इलाका पिछले तीन दिनों से पुलिस छावनी में तब्दील है। पूरे क्षेत्र में इसकी चर्चा शुरू हो गई, लेकिन पुलिस के सख्त पहरे के कारण किसी ने इसका विरोध नहीं कियाl

ये भी पढ़े- RESTRICTIVE : गुटखा और पान मसाला 2021 तक बैन, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने जारी किया नोटिफिकेशन…

इधर मंगलवार को भी आमझर के चिह्नित स्थान पर कोरोना मृतकों के शवों की अंत्येष्टि के लिए श्मशान, कब्रिस्तान व शेड निर्माण को अंतिम रूप देने का काम जारी रहा। ग्रामीणों के विरोध के मद्देनजर आमझर आनेवाली हर सड़क पर पुलिस बल तैनात कर दिए गए हैं। प्रशासनिक पदाधिकारी श्मशान निर्माण कार्य सहित अन्य गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here