• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

पीएम मोदी को चिट्ठी लिख,CAA के समर्थन में उतरे बंगाली कलाकार

1 min read

पीएम मोदी को चिट्ठी लिख,CAA के समर्थन में उतरे बंगाली कलाकार

NEWS TODAY :: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नागरिकता कानून का पुरजोर विरोध किया हैंl  ममता बनर्जी नागरिकता कानून और एनआरसी का विरोध करती रही हैं। मंगलवार को भी उन्होंने कहा था कि वह पहरेदार हैं और अगर कोई लोगों के अधिकार छीनने आएगा, तो उसे इसके लिए उनकी लाश से गुजरना होगा।

लेकिन नागरिकता कानून के समर्थन में बंगाल के कलाकारों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है। ये चिट्ठी बंगाली फिल्म कलाकार, प्रोफेसर, फिल्म मेकर ने लिखी है। चिट्ठी लिखने वालों में अंजना बासू, सौरभ चक्रवर्ती, रणदीप सरकार, राज भौमिक जैसी हस्तियां हैं। चिट्ठी में लिखा गया है कि हम पश्चिम बंगाल के लोग नागरिकता संशोधन कानून लागू करने के लिए आपका आभार जताते हैं। इस चिट्ठी को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  को लिखी चिट्ठी में यह कहा गया है कि पश्चिम बंगाल के लोग नागरिकता संशोधन अधिनियम लागू करने के लिए केंद्र सरकार के आभारी हैं। विभाजन के वक्त से ही बंगाली समुदाय पीड़ा से गुजर रहा था। इस कानून द्वारा दशकों से चली आ रही पीड़ा को खत्म करने के लिए आपका आभार।

गौरतलब है कि, ममता बनर्जी ने सुंदरबन के जंगलों के पश्चिमी किनारे पर एक जन सभा में कहा, हम किसी की दया पर नहीं जीते। मैं किसी को हमारे अधिकार को छीनने नहीं दूंगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपकी पहरेदार हूं, अगर कोई आपके अधिकार छीनने आएगा, तो उसे मेरी लाश से गुजरना होगा।’ संशोधित नागरिकता कानून और राष्ट्रीय नागरिकता पंजी के खिलाफ प्रदर्शन को जब तक जरूरी हो तब तक जारी रखने की बात कहते हुए बनर्जी ने कहा कि वह राज्य के लोगों की रक्षा के लिए सबकुछ करेंगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.