• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

पिज्जा डिलीवरी का काम करने वाला बना उग्रवादी लॉकडाउन में काम छूटा तो निकल पड़ा गलत राह पर

1 min read

पिज्जा डिलीवरी का काम करने वाला बना उग्रवादी लॉकडाउन में काम छूटा तो निकल पड़ा गलत राह पर

NEWSTODAYJपिज्जा डिलीवरी का काम करने वाला बना उग्रवादी लॉकडाउन में काम छूटा तो निकल पड़ा गलत राह परl ये वाकया रांची की है जहाँ बरियातू पुलिस ने शहर के दो व्यवसायी से रंगदारी मांगने के आरोप में पीएलएफआई के उग्रवादी नीरज ठाकुर को गिरफ्तार किया है। उग्रवादी ने दवा दुकान के संचालक सचिन कुमार से 13 लाख रुपए रंगदारी की मांग की थी। वहीं, ट्रांसपोर्टर सचिन से 20 लाख रुपए की मांग की गई थी। जिस नंबर से रंगदारी मांगी गई थी, उसके लोकेशन के आधार पर उसकी गिरफ्तारी हुई।

ये भी पढ़े…

शिक्षा परियोजना से जुड़े व्हाट्सएप ग्रुप में प्रस्तुत की जा रही है अश्लील सामग्री

गिरफ्तार उग्रवादी ने पूछताछ के क्रम में बताया कि लॉकडाउन से पहले वह पिज्जा डिलीवरी का काम करता था। लॉकडाउन के दौरान उसकी नौकरी छूट गई। उसे परेशानी होने लगी। उसे पैसे की जरूरत होती थी, लेकिन कोई नहीं देता था। इसके बाद वह संदीप नाम के युवक के संपर्क में आया। संदीप ने बताया कि वह पीएलएफआई के लिए काम करता है। संदीप ने नीरज ठाकुर को भी पीएलएफआई में शामिल करा दिया। संदीप गुमला में रहता है, जबकि नीरज बुढ़मू थाना क्षेत्र का रहने वाला है। संदीप की तलाश में रांची पुलिस गुमला गई थी, लेकिन वह पकड़ में नहीं आया। संदीप एरिया कमांडर है। उसके खिलाफ दर्जनों मामले दर्ज हैं।

ये भी पढ़े…

भारत में कोरोना संक्रमण का मामला 5 लाख के पहुंचा पार

रांची पुलिस का कहना है कि उग्रवादी नीरज ठाकुर पहले रांची में रहकर काम करता था। हेल्थ प्वाइंट अस्पताल में दवा दुकान चलाने वाले सचिन कुमार के यहां वह नौकरी करता था। सचिन ने उसे नौकरी से हटाया तो नीरज ने रात में जाकर दुकान में दो बार लूटपाट की घटना को अंजाम दिया। पुलिस का कहना है कि नीरज दवा दुकान में काम करने वाले एक स्टाफ से दुकान के बार में सूचना लेता था। सूचना लेने के बाद लूट की घटना को अंजाम दिया, फिर रंगदारी की मांग की। दुकान के स्टाफ अर्जुन को पुलिस ने हिरासत में लिया है, उससे पूछताछ की जा रही है। पुलिस का कहना है कि पीएलएफआई उग्रवादी संदीप ने नीरज ठाकुर को रंगदारी मांगने के लिए एक सिम कार्ड दिया था। सिम कार्ड देने के बाद संदीप ने कहा था कि यह काफी चर्चित नंबर है। किसी को भी इस नंबर से फोन करने पर सामने वाला समझ जाता है कि पीएलएफआई से फोन आया है। रंगदारी मिलने में आसानी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.