• झारखंड का उभरता न्यूज़ पोट्रल न्यूज़ टुडे झारखंड में आप के गली मोहलले के हर खबर अब आप के मोबाइल तक आप के गली मोहल्ले की हर खबर को हम दिखाएंगे प्रमुखता से हमारे न्यूज़ टुडे झारखंड के संवादाता से संपर्क करे,ph..No धनबाद, 9386192053,9431143077,93 34 224969,बोकारो,+91 87899 12448,लातेहार,+919546246848,पटना,+919430205923,गया,9939498773,रांची,+919334224969,हेड ऑफिस दिल्ली,+919212191644,आप हमें ईमेल पर भी संपर्क कर सकते है हमारा ईमेल है,NEWSTODAYJHARKHAND@GMAIL........झारखंड के हर कोने कोने की खबर अब आप के मोबाइल तक सबसे पहले आप प्ले सटोर पर भी न्यूज़ टुडे झारखंड के ऐप को इंस्टॉल कर सकते है हर तरह के वीडियो देखने के लिए सब्सक्राइब करे यूट्यूब पर NEWSTODAYJHARKHAND......विज्ञापन के लिए संपर्क करे...9386192053.9431134077

निर्भया के दोषियों की मौत की उलटी गिनती शुरू-कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

1 min read

निर्भया के दोषियों की मौत की उलटी गिनती शुरू-कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

NEWS TODAY :: पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया के चारों दोषियों को फांसी की सजा सुनाते हुए डेथ वारेंट जारी कर दिया हैl तिहाड़ जेल में 22 जनवरी सुबह 7 बजे उन सब को फांसी दी जाएगीl दोषियों को सभी विकल्पों के इस्तेमाल के लिए 14 दिनों का वक्त दिया गया हैl वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान आज चारों दोषियों पवन शर्मा, विनय शर्मा, मुकेश और अक्षय का पक्ष सुनाl सुनवाई के दौरान जज ने चारों दोषियों से पूछा कि क्या आपको जेल की तरफ से नोटिस मिल गया है? दोषियों ने कहा कि हां नोटिस मिल गया है और हमने उसका जवाब भी दिया और जो भी कानूनी विकल्प है, हम उसका इस्तेमाल करेंगेl इससे पहले निर्भया मामले की सुनवाई दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पूरी हो गई थीlज्ञात रहे कि, 13 सितंबर 2013 को निचली अदालत ने निर्भया कांड के चारों दोषियों पवन शर्मा, विनय शर्मा, मुकेश और अक्षय को मौत की सजा सुनाई थीl सुप्रीम कोर्ट निर्भया दोषियों की पुनर्विचार याचिका सुप्रीम कोर्ट जुलाई 2018 में ही खारिज कर चुका है और इनके पास क्यूरेटिव पिटीशन दायर करने के लिए डेढ़ साल का वक्त था लेकिन तब उन्होंने ऐसा नहीं कियाl पिछली सुनवाई के दौरान कोर्ट ने तिहाड़ जेल प्रशासन से चारों दोषियों को नोटिस जारी कर उनके पास मौजूद विकल्प पर उनका जवाब लेने को कहा थाl

गौरतलब है कि, 16-17 दिसंबर, 2012 की रात दक्षिणी दिल्ली के मुनिरका बस स्टॉप पर अपने दोस्त के साथ एक खाली प्राइवेट बस में चढ़ी 23 वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा के साथ छह लोगों ने मिलकर चलती बस में गैंगरेप कियाl साथ ही साड़ी बर्बरता की हदें पार कर दीl वहीं छात्रा के दोस्त को भी बेरहमी से पीटा गयाl बाद में दोनों को महिपालपुर में सड़क किनारे फेंक दिया गयाl पीड़िता का इलाज पहले सफदंरजग अस्पताल में चला, सुधार न होने पर सिंगापुर भेजा गयाl वहीं घटना के 13वें दिन 29 दिसंबर, 2012 को सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में निर्भय ने आखिरी सांस ली और उसकी मौत हो गईl

Leave a Reply

Your email address will not be published.